सूरतगढ़ बाइपास पर सेफ्टी टैंक खाली करने को लेकर विवाद

सूरतगढ़ बाइपास पर सेफ्टी टैंक खाली करने को लेकर विवाद

pawan uppal | Publish: Mar, 14 2018 08:19:56 AM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

-दोनों पक्षों में विवाद के बाद ग्रामीण और टैंकर संचालक यूआईटी पहुंच गए।

 

श्रीगंगानगर.

सूरतगढ़ बाइपास पर मंगलवार को ग्राम पंचायत चार एमएल के सामने सूरतगढ़ रोड पर सैफ्टी टैंकर खाली कर दिए और कुछ टैंकर खाली किए जा रहे थे। इसकी सूचना गांव के लोगों को मिली तो ग्रामीण दोपहर में एकत्रित होकर टैंकर चालकों को गंदगी डालने से रोक दिया। इसको लेकर टैंकर चालक और ग्रामीणों में विवाद होने पर हंगामा किया। एक बार दोनों पक्षों में तनातनी हो गई और टैंकर खाली करने को लेकर विवाद काफी बढ़ गया। टैंकर चालकों ने कहा कि सड़क पर ही सेफ्टी टैंक खाली किया जाएगा। दूसरी तरफ सरपंच मीन्नू लिंबा और ग्रामीणों ने कहा कि यहां पर किसी भी हालत में गंदगी नहीं डालने दी जाएंगी।


ग्रामीणों ने इसको लेकर हंगामा खड़ा कर दिया। सरपंच ने विवाद बढऩे पर मौके पर पुलिस बुलवा ली। सदर पुलिस थाने के एएसआई राजेंद्र बारहठ के नेतृत्व में पुलिस जाब्ता मौके पर पहुंच कर दोनों पक्षों से समझाइश कर झगड़ा करने से रोक दिया।


टैंकर यूनियन के प्रेम दादरवाल, महेंद्र बागड़ी और सुरेंद्र स्वामी सहित और ग्रामीण सरपंच मीनू लिंबा,सुनील लिंबा,पूनमचंद, राजेंद्र गोयल,ताराचंद छिंपा,ओम छींपा,बजरंग वर्मा,महेंद्र वर्मा,श्रवण पटरी,रामकुमार डूडी,कपिल बुडिय़ा और सुशील कुमार आदि ने कहा कि गांव के सामाने किसी भी हालत में गंदगी नहीं डालने दी जाएगी।


प्लांट में टैंकर खाली करवाना तय हुआ
-दोनों पक्षों में विवाद के बाद ग्रामीण और टैंकर संचालक यूआईटी पहुंच गए। जहां यूआईटी सचिव कैलाशचंद्र शर्मा से मिले और वार्ता की गई। यूआईटी सचिव शर्मा ने कहा कि सेफ्टी टैंक सूरतगढ़ बाइपास पर वाटर ट्रीटमैंट प्लांट के अंदर सीधे ही खाली कर दिए जाए। इसके बाद प्लांट संचालक से ग्रामीण और टैंकर चालकों ने बात की तो उन्होंने इस पर सहमति दे दी।


यह है समस्या
सरपंच लिंबा का कहना है कि चार एमएल के गांव के सामने सड़क पर गंदगी डाली जा रही है। इसकी दूर-दूर तक बदबू आती है। इस कारण ग्रामीणों का जीना मुहाल हो जाता है। गंदगी से बीमारियां फैलती है और वातावरण से हवा दूषित हो जाती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned