scriptDig pits and forgot: the fault of Ravana combustion or our fate | SriGanganagar गड्ढे खोदे और भूल गए: रावण दहन का कसूर या हमारी तकदीर | Patrika News

SriGanganagar गड्ढे खोदे और भूल गए: रावण दहन का कसूर या हमारी तकदीर

locationश्री गंगानगरPublished: Oct 07, 2022 09:02:52 pm

Submitted by:

surender ojha

Dig pits and forgot: the fault of Ravana combustion or our fate- सीवर और पेयजल लाइन बिछाने के नाम पर खोदी सड़कों की अनदेखी

SriGanganagar गड्ढे खोदे और भूल गए: रावण दहन का कसूर या हमारी तकदीर
SriGanganagar गड्ढे खोदे और भूल गए: रावण दहन का कसूर या हमारी तकदीर
श्रीगंगानगर। दशहरे पर रावण का पुतला दहन करने का कसूर कहें या फिर इनकी तकदीर कि सीवर ठेका कंपनी एलएंडटी ने शहर के कई मोहल्ले में सीवर और पेयजल पाइप लाइन बिछाने के नाम पर सड़कों की खुदाई की और खुले गड्ढे करने के बाद भूला दिया गया। लेकिन वहां बसे लोगों को अब आवाजाही में पीड़ा हो रही है। घर के आगे खोदे गए इन गड्ढों में आए दिन किसी बच्चे या बेजुबान पशुओं के गिरने की आंशका बनी रहती है। इन लोगों ने कई बार अपने वार्ड के पार्षद, नगर परिषद आयुक्त, सीवर ठेका कंपनी और आरयूआईडीपी के अफसरों तक अपनी पीड़ा पहुंचाई लेकिन हर किसी ने आश्वासन दिया लेकिन समाधान नहीं किया। दीपावली का त्यौहार नजदीक है लेकिन घर के आगे खोदे गए गड्ढे और जर्जर सड़कों ने हालत खराब कर दी है।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.