मनमर्जी से बन रहा है यह पचास लाख रुपए का भवन, अभियंताओं के पास गुणवत्ता जांचने की फुर्सत नहीं

https://www.patrika.com/sri-ganganagar-news/

 

By: surender ojha

Published: 25 Nov 2018, 11:33 PM IST

श्रीगंगानगर।
राज्य के बजट में सीएम की घोषणा के अनुरुप नगर परिषद प्रशासन की ओर से जवाहरनगर इंदिरा वाटिका में आधुनिक शौचालय का निर्माण करवाया जा रहा है। इस भवन पर करीब पचास लाख रुपए का बजट खर्च हो रहा है, इस भवन का निर्माण लगभग पचास साठ फीसदी पूरा हो चुका है।

लेकिन वहां पुराने पीपड़ पेड़ का हटाया नहीं गया है। इस पेड़ के कारण तीन साल पहले नगर विकास न्यास प्रशासन की ओर से बनाए गए शौचालय की नींव जर्जर हो गई थी, इस कारण पुराना शौचालय की सुविधा बंद कर दी गई थी। लेकिन इस बार नगर परिषद प्रशासन के पास राज्य सरकार से आए आधुनिक और वातानुकुलित शौचालय निर्माण के लिए पचास लाख रुपए खर्च के लिए निर्माण कार्य शुरू किया गया है।

पेड़ की जड़ों केा हटाने की बजाय सिर्फ तने की छंगाई कर वहां निर्माण शुरू कर दिया। विशेषज्ञों की माने तो पेड़ की जड़े अधिक होने के कारण नए निर्माण के उपरांत यह भवन भी भविष्य में अधिक समय तक टिक नहीं पाएगा। पेड़ को इसी वाटिका में अन्य जगह शिफ्ट किया जा सकता था लेकिन ठेकेदार ने ऐसा नहीं किया। आनन फानन में निर्माण तब शुरू किया जब आचार संहिता लगने में चौबीस घंटे बचे थे। यहां तक कि नगर परिषद सभापति अजय चांडक से शिलान्यास तक करवा लिया गया।

लेकिन नगर परिषद के जेईएन, एईएन और एक्सईएन ने इस भवन निर्माण के स्थल को जांचने में भी तकनीकी पहलुओं की अनदेखी कर दी है।
इसी पार्क में जहां यह आधुनिक शौचालय का निर्माण करवाया जा रहा है, वहां पहले से दो सुविधा केन्द्र थे। इसमें एक शौचालय तो दूसरा मूत्रालय। एक का निर्माण यूआईटी की ओर से किया गया था तो दूसरा नगर परिषद की ओर से बना था। महज पांच साल की अवधि में बनाए गए इन सुविधा केन्द्रों की रखरखाव नहीं की गई।

यहां तक कि पानी की सुविधा का ख्याल नहीं रखा गया था। ऐसे में नगर परिषद के अधिकारियों ने आनन फानन में पचास लाख रुपए का बजट खर्च करने के लिए दोनों सुविधा केन्द्रो को तोडकऱ वहां नया निर्माण शुरू कर दिया। ठेकेदार ने भी निर्माण कार्य शुरू करने में देर नहीं की।

surender ojha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned