वैक्सीनेशन बढ़ाने पर जोर, पहले फ्रंटलाइन वर्कर्स को लगेंगी वैक्सीन

- निकाय कर्मचारियों को आज भी लगेंगे टीके

By: Raj Singh

Published: 05 Feb 2021, 11:33 PM IST

श्रीगंगानगर. अब कोरोना संक्रमण नहीं के बराबर रह गया और संक्रमितों की संख्या भी तेजी से घटी है। इसके साथ ही प्रशासन व चिकित्सा विभाग की ओर से वैक्सीनेशन बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। गुरुवार को राजस्व विभाग के कॉर्मिकों व शुक्रवार को निकाय कर्मचारियों के वैक्सीनेशन हुआ। शुक्रवार को राजकीय चिकित्सालय में नगरपरिषद के करीब 38 कर्मचारियों ने वैक्सीन लगवाई। शनिवार को भी निकाय कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जाएगी।


चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दूसरे चरण में शेष रहे फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्सीनेशन करने के निर्देश जारी किए हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के शासन सचिव ने बताया कि सभी जिलों में हेल्थ केयर वर्कर्स एवं फ्रंटलाइन वर्कर्स के कोविड वैक्सीनेशन की योजना तैयार कर सत्र निर्देशानुसार आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। छह फरवरी को कोविड टीकाकरण फ्रंटलाइन वर्कर्स (गृह विभाग) तथा स्थानीय निकाय विभाग के शेष रहे कार्मिकों का कोविड वैक्सीनेशन के लिए सत्रों का आयोजन किया जाएगा। 7 व 9 फरवरी को कोविड टीकाकरण के लिए किसी भी संवर्ग के कार्मिकों के लिए सत्र नहीं किया जाए।

8 फरवरी को फ्रंटलाइन वर्कर्स (गृह विभाग राजस्व विभाग और स्थानीय निकाय विभाग के शेष रहे कार्मिक) जो टीकाकरण से छूट गए उनका कोविड वैक्सीनेशन किया जाएगा। 10 फरवरी को पंचायतीराज विभाग के कार्मिकों का तथा गृह विभाग, और स्थानीय निकाय विभाग के शेष रहे कार्मिक जो वैक्सीनेशन से छूट गए, उनका कोविड वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसके बाद 11 फरवरी को शेष रहे हेल्थ केयर वर्कर्स, जो टीकाकरण से छूट गए उनका कोविड वैक्सीनेशन किया जाए।


सीएमएचओ ने किया आकस्मिक निरीक्षण
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गिरधारी मेहरड़ा जिले के विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों का आकस्मिक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं। उन्होंने शुक्रवार को जिले के विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण किया एवं साथ ही कोविड वैक्सीनेशन सेंटरों का निरीक्षण कर कोविड वैक्सीन के संबंध में जानकारी ली।


सीएमएचओ ने निरीक्षण के दौरान अधिकारियों व कार्मिकों को पाबंद किया कि वे निर्धारित ड्रेस में, निर्धारित समय पर स्वास्थ्य केंद्रों में आए ताकि किसी मरीज को कोई परेशानी न हो। इसके साथ ही जननी शिशु सुरक्षा योजना, मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना एवं जांच योजना सहित आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना का आमजन को व्यापक लाभ मिले।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की इन महत्वाकांक्षी योजना के प्रति लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। डॉ. मेहरड़ा ने शुक्रवार को उपस्वास्थ्य केंद्र मनफूलसिंह वाला, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नेतेवाला, लाधुवाला, जोगीवाला, पन्नीवाली और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लालगढ़ का निरीक्षण किया।

इसके साथ ही उन्होंने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम और कोविड हॉस्पीटल का निरीक्षण किया। आरबीएसके टीम कार्मिकों को उन्होंने निर्देश दिए कि वे गंभीरता से कार्य करें, लापरवाही पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned