अमर रहे मेरा प्यार, इसी उम्मीद के साथ लैला-मजनूं की मजार पर धोक लगाने पहुंचे इलाके के नवयुवल

Jai Narayan Purohit | Publish: Jun, 15 2019 02:02:38 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

अनूपगढ़.

-लैला मजनूं के मेले के अंतिम दिन उमड़े श्रद्धालु
-सजी कई अस्थाई दुकानें
कस्बे से करीब आठ किलोमीटर दूर गांव बिंजौर की तरफ बढ़ते हर युगल के मन में शनिवार को बस अपने प्यार को हमेशा परवान पर चढ़ते देखने की उम्मीद थी। हो भी क्यों नहीं। बिंजौर दिखने में भले ही छोटा सा गांव हो लेकिन इसी छोटे से गांव में विश्व प्रसिद्ध प्रेमी युगल लैला-मजनूं ने आखिरी सांस ली थी। हालांकि उनके यहां अंतिम सांस लेने के कोई पुख्ता प्रमाण तो नहीं है लेकिन लोगों की मान्यता के चलते गांव की फिजां प्रेमी युगल के लिए किसी तीर्थ स्थल से कम नहीं है। यहां आने वाले युगल गांव में बनी लैला मजनूं की मजार पर माथा जरूर टेकते हैं। मन में बस एक ही चाह कि मेरा प्रियतम हमेशा खुश रहे। शनिवार को लैला मजनूं के मेले का दूसरा और अंतिम दिन था। अनूपगढ़ से बिंजौर की तरफ बढ़ते ही करीब आठ किलोमीटर दूर बनी लिंक रोड पर मजार से आधा किलोमीटर पहले ही लोगों का जबर्दस्त कारवां नजर आया। गांव तक पहुंचने में ही काफी समय लग गया।

गांव में प्रवेश करते ही नजर आई कई अस्थाई दुकानें। कई नवयुगल मजार की ओर बढ़ते नजर आए। कतार में लगकर सभी ने मजार पर धोक लगाई। मेला कमेटी से जुड़े लोगों ने श्रद्धालुओं को व्यवस्थित रखने के लिए तमाम प्रबंध कर रखे थे। सभी ने लैला मजनूं की मजार के समक्ष अपने प्रेम के अमर होने की कामना की। मजार पर लोगों के कई अन्य मन्नते भी पूरी होती हैं ।ऐसे में इलाके के कई अन्य लोग भी मेले में पहुँचते हैं ।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned