scriptFarmers on strike on demand of irrigation water | सिंचाई पानी की मांग पर किसान धरने पर | Patrika News

सिंचाई पानी की मांग पर किसान धरने पर

इंदिरा गांधी नहर परियोजना में सिंचाई पानी की मांग को लेकर किसानों में रोष बढ़ता ही जा रहा है। इसके तहत मंगलवार सुबह ग्यारह बजे आईजीएनपी के प्रथम चरण में 12 जनवरी के बाद रेगुलेशन जारी करने की मांग को लेकर सैंकड़ों किसानों ने माकपा नेता श्योपत मेघवाल की अगुवाई में अधीक्षण अभियंता कार्यालय के समक्ष धरना शुरू कर दिया। किसान पूरा दिन ठंड में अधीक्षण अभियंता कार्यालय के समक्ष बैठे रहे लेकिन शाम साढ़े पांच बजे तक कोई भी अधिकारी वार्ता के लिए नही पहुंचा।

श्री गंगानगर

Published: January 05, 2022 01:08:02 am

श्रीबिजयनगर (श्रीगंगानगर). इंदिरा गांधी नहर परियोजना में सिंचाई पानी की मांग को लेकर किसानों में रोष बढ़ता ही जा रहा है। इसके तहत मंगलवार सुबह ग्यारह बजे आईजीएनपी के प्रथम चरण में 12 जनवरी के बाद रेगुलेशन जारी करने की मांग को लेकर सैंकड़ों किसानों ने माकपा नेता श्योपत मेघवाल की अगुवाई में अधीक्षण अभियंता कार्यालय के समक्ष धरना शुरू कर दिया। किसान पूरा दिन ठंड में अधीक्षण अभियंता कार्यालय के समक्ष बैठे रहे लेकिन शाम साढ़े पांच बजे तक कोई भी अधिकारी वार्ता के लिए नही पहुंचा। जिसके बाद नाराज किसान नेताओं ने प्रशासन पर किसानों की अनदेखी के आरोप लगाते हुए धरना अनिश्चितकाल के लिया जारी रखने की घोषणा कर दी। किसानों ने सिंचाई पानी के लिए आरपार की लड़ाई लडऩे का आह्वान किया।
वहीं दूसरी तरफ सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर पहले ही अधीक्षण अभियंता व दोनो अधिशाषी अभियंता के कार्यालयों से सभी कर्मचारियों को बाहर निकाल लिया गया। जिसके कारण मंगलवार को जल संसाधन विभाग के तीनों कार्यालयों में आमजन के कार्य नहीं हो पाए। मेघवाल ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार किसानों को बर्बाद करने पर तुली हुई है। डेम में पर्याप्त सिंचाई पानी होने के बावजूद आईजीएनपी में 12 जनवरी के बाद रेगुलेशन जारी नहीं कर रही है। जिसके कारण खेतो में फसलों का पकाव होता दिखाई नहीं दे रहा है।
सात को करेंगे घेराव
आईजीएनपी संघर्ष समिति के बैनर तले आईजीएनपी में 12 जनवरी के बाद रेगुलेशन जारी रखने की मांग को लेकर सात जनवरी को प्रस्तावित एसडीएम कार्यालय के घेराव में पहुंचने के लिए भारतीय किसान संघ के किरपाल सिंह, तेजा सिंह पचार, किसान नेता जोगा सिंह, जगदेव सिंह, गुरदीप सिंह की ओर से गांव गोगामेडी, 3 बीएलएम, 29 जीबी, 5 बीएलएम, 7 बीएलडी, 10 बीएलडी, 5 एसटीबी, 7 एसटीबी, 1 एपीडी, 2 व 3 केएसडी सहित अन्य गांवो में किसानों से सम्पर्क कर ज्यादा से ज्यादा संख्या में शुक्रवार को श्रीबिजयनगर में एसडीएम कार्यालय में पहुंचने का आह्वान किया। गौरतलब है कि आईजीएनपी में छह सिंचाई पानी की बारी देने की मांग को लेकर आईजीएनपी संघर्ष समिति के बैनर तले सितम्बर में एसडीएम कार्यालय के समक्ष पड़ाव डाला गया था। जिस ओर 11 अक्टूबर को मुख्य अभियंता अमरजीत सिंह मेहरडा ने 12 जनवरी से पहले समीक्षा बैठक कर रेगुलेशन जारी रखने का आश्वासन दिया गया था। जिसके बाद आंदोलन को स्थगित कर दिया गया था। लेकिन समीक्षा बैठक ही नहीं होने के कारण फिर से आंदोलन तेज कर दिया गया है। विधायक बलवीर सिंह लूथरा ने बताया कि क्षेत्र की फसलों को पकाव के लिए पूरा पानी लेकर रहेंगे। सरकार व विभाग की मनमानी नही करने दी जाएगी।
सिंचाई पानी की मांग पर किसान धरने पर
सिंचाई पानी की मांग पर किसान धरने पर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

क्या सच में बुझा दी गई अमर जवान ज्योति? केंद्र सरकार ने दिया जवाबVideo: बॉम्बे हाई कोर्ट के जज के चैंबर में मिला 5 फीट लंबा सांप, वन विभाग की टीम ने किया रेस्क्यूदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारUP Assembly Elections 2022 : एकाएक राजनीति में उतरकर इन महिलाओं ने सबको चौंकाया, बटोरी सुर्खियांभारत के इलेक्ट्रिक वाहन बाजार में Adani Group की हो सकती है धमाकेदार एंट्री, कंपनी ने ट्रेडमार्क किया दायरशहीद हेमू कालाणी: आज भी हैं युवा वर्ग के लिए आदर्शDriving License पर पता बदलने के लिए अब नहीं पड़ेगी RTO के चक्कर लगाने की जरूरत, मिनटों में समझे प्रोसेसइंडिया गेट पर जहां लगेगी सुभाष चंद्र बोस की मूर्ति, जानिए वहां पहले किसकी थी प्रतिमा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.