किसानों को नि:शुल्क एक मिनट में मिलेगी कृषि जिंसों की गुणवत्ता जांच रिपोर्ट

-श्रीगंगानगर अनाज मंडी सहित राज्य की 119 मंडियों में स्थापित की जा रही है ग्रीन एनलाइजर मशीन

By: Krishan chauhan

Updated: 14 Sep 2020, 09:46 AM IST

किसानों को नि:शुल्क एक मिनट में मिलेगी कृषि जिंसों की गुणवत्ता जांच रिपोर्ट

-श्रीगंगानगर अनाज मंडी सहित राज्य की 119 मंडियों में स्थापित की जा रही है ग्रीन एनलाइजर मशीन

कृष्ण चौहान


श्रीगंगानगर. कृषि उपज मंडी समिति अनाज श्रीगंगानगर सहित राज्य की 119 अनाज मंडियों में प्रथम चरण में ग्रीन एनलाइजर मशीन से अब किसानों की कृषि जिंसों की गुणवत्ता की जांच होगी। एक ग्रीन एनलाइजर मशीन की कीमत 13 लाख 50 हजार रुपए है। जबकि यह आधुनिक मशीन डेनमार्क से मंगवाई गई है। इस मशीन से कृषि जिंसों की गुणवत्ता की जांच की रिपोर्ट किसान को कम से कम एक मिनट में मिल जाएगी। इस रिपोर्ट के आधार पर किसान अपनी उपज का सही व उचित दाम पर ब्रिकी कर सकेगा। साथ ही राष्ट्रीय कृषि बाजार के अंतर्गत किसान अपना अनाज को देश में कहीं पर भी बैठे व्यापारी कृषि जिन्स की गुणवत्ता रिपोर्ट के आधार पर बैच सकेगा। श्रीगंगानगर जिले की सभी मंडियों में यह ग्रीन एनलाइजर मशीन लगाई जा रही है।

इन मंडियों लगाई मशीन
अभी तक जिले में कृषि उपज मंडी समिति (अनाज)श्रीगंगानगर, श्रीकरणपुर, केसरीसिंहपुर व श्रीविजयनगर में स्थापित कर दी गई। शेष मंडियों में भी जल्द हो जाएगी।

यूं करेगी मशीन सैंपल की जांच
गुणवत्ता परीक्षण लैब के डेटा विश्लेषक प्रिंस जुनेजा ने बताया कि मशीन में किसान का 100 ग्राम अनाज का सैंपल डाला जाएगा। करीब एक मिनट बाद मशीन से कंप्यूटराइज्ड रिपोर्ट निकल जाएगी। यह मशीन ग्वार, चना, गेहूं, धान, बाजारा व मक्का सहित अन्य कृषि जिंसों की नमी, दानों में टूटफूट, दाग, प्रोटीन, ग्लूकोटिन आदि सभी संबंधित पैरामीटर की रिपोर्ट कुछ समय में आपको मिल जाएगी। इस मशीन में मूंग की गुणवत्ता का विकल्प भी उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसमें सैंपल का अनाज सुरक्षित रहेगा और किसान को वापस दिया जा सकेगा। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि इस सैंपल रिपोर्ट में किसी प्रकार की गड़बड़ी करना संभव नहीं है।

इ-ऑक्शन में भी मिलेगी मदद
यह मशीन राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना के तहत मंडियों में लगाई जा रही है। इसका मुख्य उद्देश्य किसनों को मंडी के अलावा इ-ऑक्शन शुरू किया गया। इसमें देश में कहीं भी बैठे व्यापारी किसान के अनाज की गुणवत्ता का स्क्रीन कर पता कर सकेगा और वह गुणवत्ता के आधार पर किसान का अनाज की खरीद कर सकेगा।

फैक्ट फाइल
-श्रीगंगानगर जिले में अनाज मंडियां-13

-राज्य में अनाज मंडियां-144
-राज्य की अनाज मंडियों में प्रथम चरण में मशीन स्थापित होगी-119 मंडियां

-राज्य में द्वितीय चरण में मशीन स्थापित होगी-25 मंडियां
-एक ग्रीन एनलाइजर मशीन की कीमत-13 लाख 50 हजार रुपए

-राज्य की 119 अनाज मंडियों में एनलाइजर मशीन पर राशि खर्च होगी-16 करोड़ 6 लाख 50 हजार
—----

कृषि उपज मंडी समिति अनाज में ग्रीन एनलाइजर मशीन स्थापित होने से किसानों को लाभ मिलेगा। कृषि जिंसों की गुणवत्ता के आधार पर किसान को उचित मूल्य मिलेगा। इ-ऑक्शन में किसान अपनी उपज बाहर के व्यापारी को भी बेच सकेगा।
-अमर सिंह बिश्नोई, किसान संघर्ष समिति, श्रीगंगानगर।

...........

यहां गुणवत्ता परीक्षण लैब में कृषि जिंसों की गुणवत्ता की जांच करने के लिए ग्रीन एनलाइजर मशीन स्थापित की गई है। यह मशीन श्रीगंगानगर सहित राज्य की 119 मंडियों में प्रथम चरण में स्थापित की जा रही है। किसान अपनी कृषि जिंस की गुणवत्ता की जांच करवा सकेगा। इसकी रिपोर्ट के आधार पर किसान को फसल का उचित दाम मिलेगा।

-लाजपतराय खुराना, सचिव, कृषि उपज मंडी समिति (अनाज) श्रीगंगानगर।

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned