श्रीबिजयनगर उपखण्ड कार्यालय पर किसान करेंगें प्रदर्शन।

https://www.patrika.com/sri-ganganagar-news/

आईजीएनपी में पुरा सिंचाई पानी, किसानों पर दर्ज हुए मुकदमें वापिस लेने को लेकर,19 दिसम्बर को उपखण्ड कार्यालय पर किसान करेंगें प्रदर्शन।

श्रीबिजयनगर.भारतीय किसान संघ की विशेष बैठक नई धान मंडी स्थित किसान विश्राम गृह में तहसील अध्यक्ष नरेंद्र सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई । जिला प्रवक्ता रघुवीर चौधरी ने बताया कि इंदिरा गांधी नहर परियोजना में सिंचाई पानी रेग्युलेशन वर्तमान में चार समूह में से दो समूहों में चलाया जा रहा है । लेकिन सिंचाई विभाग द्वारा 26 दिसंबर 2018 से 13 मार्च 2019 तक का वरीयता क्रम तीन समूहों में से एक समूह पानी चलाया जाने का वरीयता क्रम निर्धारित किया गया है । जिसका भारतीय किसान संघ विरोध करता है ।

सितंबर माह में नाली बेल्ट में किसानों के आंदोलन के उपरांत पानी छोड़ा गया था । उस समय जैतसर से अनूपगढ़ तक धान की फसल को पानी की बेहद आवश्यकता थी । लेकिन जैतसर फार्म क्षेत्र में बनाए गए अवैध बंधों के कारण पानी आगे नहीं बढ़ रहा था । भारतीय किसान संघ के जिला अध्यक्ष जसवंत सिंह व अन्य किसान संगठनों व जनप्रतिनिधियों के आग्रह पर पानी आगे छुड़वाया गया था । जिस पर फार्म के अधिकारियों द्वारा किसानों पर मुकदमे दर्ज करवाए गए । संगठन इसका कड़ा विरोध करता है ।

मुकदमा वापिस लेने की मांग की मांग करता है। इन दोनो मांगों को लेकर 19 दिसंबर को गांधी पार्क श्रीबिजयनगर में किसान संघ के नेतृत्व में किसान इकट्ठे होकर इंदिरा गाँधी नहर परियोजना में चार मे से दो समूह में सिंचाई पानी चलाने व किसानों पर दर्ज किए गए मुकदमे वापिस लेने के लिए उपखंड कार्यालय पर प्रदर्शन करेंगे और उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंपेंगे।

बैठक में प्रांतीय उपाध्यक्ष सत्यनारायण गोदारा ,नरेन्द्र सिंह,शेर सिंह,संतलाल स्वामी,बोहड सिंह, शिवदत, राजाराम सुथार सहित कई किसान उपस्थित थे।

Rajaender pal nikka Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned