एफसीआइ ने ऑड इवन के हिसाब से गेहूं की एमएसपी पर खरीद शुरू की

-जिला मुख्यालय पर पहले दिन 64 किसानों की दस हजार क्विंटल गेहूं की खरीद की

By: Krishan chauhan

Published: 13 Apr 2021, 10:33 AM IST

एफसीआइ ने ऑड इवन के हिसाब से गेहूं की एमएसपी पर खरीद शुरू की

-जिला मुख्यालय पर पहले दिन 64 किसानों की दस हजार क्विंटल गेहूं की खरीद की

-श्रीगंगानगर.भारतीय खाद्य निगम (एफसीआइ)ने सोमवार को जिला मुख्यालय पर ऑड इवन के हिसाब से न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर गेहूं की शुरुआत की। पहले दिन 64 किसानों की दस हजार क्विंटल गेहूं की खरीद की गई। मंगलवार को भी करीब 70 किसानों को गेहूं लाने के लिए टोकन जारी किया है। इस मौके पर श्रीगंगानगर विधायक, कृषि विपणन विभाग के क्षेत्रीय निदेशक डीएल कालवा, कृषि उपज मंडी समिति (अनाज)सचिव लाजपतराय खुराना,एफसीआइ के क्यूआई रविंद्र सिंह पंवार,गंगानगर कच्चा आढ़तियां संघ के अध्यक्ष कुलदीप कासनिया,महामंत्री रमेश कुक्कड़,व्यापारी नेता हनुमान गोयल,श्रमिक नेता ओमप्रकाश ढिलोड़ सहित कई किसान व व्यापारी मौजूद रहे।
श्रीगंगानगर विधायक ने एफसीआइ और मंडी समिति के अधिकारियों को कहा कि किसान को एफसीआइ को गेहूं बेचान के लिए किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिए। एफसीआइ क्यूआई से कहा कि मंडी में बारदाना की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए तथा किसानों को ऑनलाइन पंजीकरण, टोकन व अन्य कागजी प्रक्रिया को लेकर परेशान नहीं किया जाए। सामान्य प्रक्रिया के तहत गेहूं की खरीद की जाए। वहीं, श्रीगंगानगर जिले में एफसीआइ सहित अन्य खरीद एजेंसियों ने 34 केंद्र बनाए गए हैं। इनमें पहले दिन कई खरीद केंद्रों पर गेहूं की एमएसपी पर खरीद शुरू नहीं हो पाई।

गेहूं बेचान के लिए यह जरूरी है

एफसीआइ को गेहूं बेचान करने के लिए किसानों को ऑनलाइन पंजीयन करवाना होगा। मंडी समिति को किसान को टोकन जारी करना होगा। उसी टोकन के अनुसार किसान मंडी में गेहूं की फसल लेकर आएगा। किसान को गिरदावरी या जमाबंदी,स्वयं का घोषणा पत्र व बैंक खाता की पासबुक की एक फोटो प्रति जमा करवानी होगी।
कुछ केंद्रों पर नहीं हुई खरीद

श्रीगंगानगर जिले में एफसीआइ, राजफैड व तिलम संघ 34 खरीद केंद्रों पर गेहूं की एमएसपी पर खरीद करेगा। इनमें एफसीआइ के 23, राजफैड के दो और तिलम संघ को 9 खरीद केंद्र आवंटित किए गए हैं। इस वर्ष जिले में पांच लाख 50 हजार क्विंटल गेहूं की खरीद करने का लक्ष्य दिया है। उल्लेखनीय है कि जिले में गत वर्ष 6 लाख 71 हजार 276 हजार मीट्रिक टन गेहूं की खरीद एमएसपी पर की गई थी। जबकि व्यापारियों ने निजी स्तर पर 89426 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की गई थी। वर्ष 2021-22 में मंडियों में गेहूं की 836772 हजार मीट्रिक टन गेहूं की आवक होने की संभावना है। इस बार गेहूं की एमएसपी भी बढ़ाकर 1975 रुपए प्रति क्विंटत कर दी गई है।

कोविड गाइड लाइन की करनी होगी पालना
कृषि उपज मंडी समिति के सचिव खुराना ने दुकानदार,श्रमिक व किसानों से आग्रह किया कि कोरोना गाइड लाइन की सख्ती से पालना की जाए। मंडी में बिना मास्क कोई भी व्यक्ति नहीं आना चाहिए। साथ ही सामाजिक दूरी भी बनाकर रखनी होगी।

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned