पुलिस की प्राथमिकता में रहेंगे गैंगस्टर व हार्डकोर अपराधी- एसपी

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: vikas meel

Published: 24 Jul 2018, 09:22 PM IST

-तीन से पांच मामले दर्ज होने पर घोषित होंगे हिस्ट्रीशीटर
श्रीगंगानगर.

हार्डकोर अपराधी, गैंगस्टर, भगौड़े व वारंटियों की धरपकड़ का काम पुलिस की प्राथमिकता में रहेगा। इसके लिए पुलिस की ओर से विशेष अभियान चलाया जाएगा। इसके अलावा तीन से पांच मामले दर्ज होने वाले आरोपियों को भी हिस्ट्रशीटर घोषित किया जाएगा। ऐसे कुछ लोगों को तड़ीपार भी किया जा सकता है।

 

श्रीगंगानगर में हाल ही पुलिस अधीक्षक के पद पर तैनात योगेश यादव ने मंगलवार शाम को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पुलिस की प्राथमिकताएं हैं वो तो रहेंगी ही। इसके अलावा जिले का फीडबैक लिया जा रहा है। यहां हार्डकोर अपराधी, गैंगस्टर, गैंगों से जुडऩे वाले, भगोड़े, वारंटी आदि की धरपकड़ और कार्रवाई पुलिस की प्राथमिकता में रहेगी। इसके अलावा जिले में हिस्ट्रीशीटरों की संख्या बहुत कम है। बार-बार अपराध करने वालों का रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। तीन या पांच मामले दर्ज होने वाले आरोपियों को जल्द ही हिस्ट्रीशीटर घोषित किया जाएगा। गुण्डा एक्ट वालों को जिले से तड़ी पार कराया जाएगा। सोशल मीडिया पर भडकाऊ और अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ भी तत्काल मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

 

शराब, नशा व सट्टा अपराध की जड़ है। यह एक सामाजिक अपराध है। इसके लिए पुलिस कार्रवाई करती रहती है। इस दौरान एडिशनल एसपी मुख्यालय सुरेन्द्र सिंह राठौड़, रायसिंहनगर के एडिशनल एसपी भरतराज और श्रीकरणपुर सीओ सुनील के पंवार भी मौजूद थे।

 

यूथ क्लबों का होगा गठन

-पुलिस अधीक्षक ने कहा कि युवा पथभ्रष्ट हो रहा है। अब जरूरत है पुलिस को सीधे युवा वर्ग के साथ जुड़ाव पैदा करने की। इसके लिए जिले में यूथ क्लबों का गठन किया जाएगा। हर इलाके में ऐसे क्लबों का गठन करेंगे। क्लबों से जुड़े युवाओं से इलाके का फीडबैक लिया जाएगा।

 

अब थानों में भी मिलेगी परिवादियों को रसीद

-पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अब प्रत्येक थाने में परिवादियों को रसीद दी जाएगी। इसके बावजूद कार्रवाई नहीं होती है और परिवादी जिला मुख्यालय तक आता है, तो संबंधित थाना प्रभारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

 

केसों की वजह से नहीं लग पा रही नौकरियां
-युवकों के खिलाफ दर्ज हुए प्रकरणों के आधार पर सत्यापन नहीं हो पाता है और ऐसे में युवकों को नौकरी नहीं मिल पाती। किसी का पासपोर्ट,अच्छे संस्थान में प्रवेश नहीं मिल पाता। इसका रिकॉर्ड निकलवाया जाएगा।

 

किराएदारों के सत्यापन को आदेश निकलवाएंगे

उन्होंने कहा कि पीजी, हॉस्टलों और मकानों में रहने वाले किराएदारों का सत्यापन कराना चाहिए। इसके लिए अब सख्ती की जाएगी। इसके लिए जिला कलक्टर की ओर से आदेश निकलवाया जाएगा। जिससे लोग किराएदारों का सत्यापन करवाए।

Show More
vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned