scriptGlorious area, folk culture came alive | SriGanganagar गणगौरमय हुआ इलाका, जीवत हो उठी लोक संस्कृति | Patrika News

SriGanganagar गणगौरमय हुआ इलाका, जीवत हो उठी लोक संस्कृति

Glorious area, folk culture came alive- गणगौर और ईसर की सवारी आकर्षक का केन्द्र, महिलाओं ने की पूजा अर्चना

श्री गंगानगर

Published: April 04, 2022 10:33:14 pm

SriGanganagar श्रीगंगानगर। महिलाओं का गणगौर उत्सव से इलाका गणगौरमय हो गया। सुबह से लेकर शाम तक गौर की पूजा अर्चना के बाद शाम को उत्सव का दौर चला। पुरानी आबादी के वार्ड 16 में स्थित महिला पार्क और बाजार एरिया में सनातन धर्म महावीर मंदिर परिसर में मुख्य उत्सव का आयोजन किया गया। इन दोनों मेले स्थल पर विभिन्न इलाके से आई महिलाओं ने ईसर-गौर माता की धोक लगाई।
SriGanganagar गणगौरमय हुआ इलाका, जीवत हो उठी लोक संस्कृति
SriGanganagar गणगौरमय हुआ इलाका, जीवत हो उठी लोक संस्कृति
वहीं कई महिलाएं अपने सिर पर गौर-ईसर की शोभा यात्रा निकालते हुए पहुंची। पुरानी आबादी के महिला पार्क में राजस्थानी सांस्कृतिक व लोक कला विकास मंच की ओर से आयोजित कार्यक्रम में महिलाओं की खूब भीड़ रही। इस पार्क में नृत्य प्रतियोगिता सीनियर और जूनियर वर्ग में हुई। बीकानेर से आई निव्या कच्छावा ने पूजन दयो गणगौर लोक गीतों पर नृत्य प्रस्तुत किया। वहीं जन्त, तमन्ना, निष्ठा, टीना, तनिशा, अनन्या, देवांशी, चंचल, मोनिका, नैन्सी, भूमिका किरण, कोमल, चेष्टा आदि प्रतिभागियों ने राजस्थानी लोक गीतों, घूमर, मेलोडी पर अपनी बेहतरीन प्रस्तुतियां दी। इस कार्यक्रम में पुरानी आबादी के अधिकांश इलाके से महिलाएं बच्चों सहित पहुंची।
मंच के सचिव सुभाष तिवाड़ी ने बताया कि पिछले बीस सालों से इस पार्क में गणगौर उत्सव का आयोजन किया जा रहा हैं। इस उत्सव में लीला चौक के पास स्थित सनातन धर्म राम मंदिर की गौर-ईसर की सवारी आई। इस सवारी को महिलाओं ने फूलों की वर्षा कर स्वागत किया।
कार्यक्रम में मंच क संयोजिका माधुरी कंवर, अध्यक्ष हिम्मत सिंह, विधायक राजकुमार गौड़, उद्योगपति विजय कुमार गोयल, जेपी श्रीवास्तव, पार्षद कुसुम कौशिक, दलीप लावा, शंकर असवाल, वार्ड पार्षद रोहित बागड़ी आदि साक्षी बने। पार्क के बाहर खाद्य पदार्थो की रेहडिय़ां और गुब्बारे आदि स्ट्रीट वेंडरों की दुकानें सजी हुई थी।
सुरक्षा की दृष्टिगत पुलिस का व्यापक जाब्ता तैनात किया गया। इधर, महावीर दल मंदिर परिसर में दादी बामणी की गणगौर की पूजा अर्चना के लिए महिलाओं में उत्साह दिखा।

इस दौरान वहां लच्छीराम गीदड़ा परिवार, माहेश्वरी महिला सेवा समिति, आदराम नौखवाल परिवार की गणगौर और ईसर की सवारी आकर्षक का केन्द्र रहे। राजपूत सभा की ओर से गणगौर प्रतिमा का पारम्परिक वस्त्र-आभूषणों से श्रृंगारित गणगौर की सवारी निकाली गई।
राजपूत सभा भवन में गणगौर पर्व पर लोक सांस्कृतिक कार्यक्रम में इस एकता मंच महिला शक्ति, भारत विकास परिषद महिला प्रगति एवं मैनादेवी संस्थान का सहयोग रहा। इस दौरान गौर ऐ गणगौर माता.., खेलन दयो गणगौर भंवर म्हाने पूजन दयो.., आदि अनेकों लोक गीतों पर महिलाओं और युवतियों ने अपनी प्रस्तुति से रंग जमाया।
गणगौर के इतिहास पर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता भी हुई, इसमें बीस विजेताओं को पुरुस्कृत किया। वहीं सौलह श्रृंगार करने पर मिस या मिसेज गणगौर का चयन कर इनाम बांटे। इसके साथ साथ साफा बांधने की व्यवस्था भी की गई।
इससे पहले महिलाओं ने गौर-ईसर की पूजा अर्चना की। सचिव प्रताप सिंह शेखावत ने बताया कि गणगौर की इस सवारी का पार्षद प्रियंक भाटी की अगुवाई में जवाहरनगर गगन पथ पर अरूट चौक और चहल चौक पर भव्य स्वागत किया गया। इसके अलावा शहर के विभिन्न मार्गो पर इस सवारी को पुष्प वर्षा से अभिनंदन किया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.