गूंजा म्हारो हेलो सुणो जी रामापीर

Gunja Mharo Hello Suno Ji Ramapir- लोक देवता बाबा रामदेव मेले में उमड़े श्रद्धालु.

By: surender ojha

Updated: 22 Feb 2021, 12:09 PM IST

श्रीगंगानगर. कोरोनाकाल के बाद पहली बार लोक देवता बाबा रामदेव मेले में श्रद्धालुओं में उत्साह का माहौल देखने को मिला। सोमवार सुबह छह बजे से ही श्रद्धालुओं का यहां सूरतगढ रोड पर स्थित प्राचीन बाबा रामदेव मंदिर में धोक लगाने का सिलसिला शुरू हो गया।

दोपहर बारह बजे तक इस मंदिर प्रांगण में हर कोई बाबा रामदेव की प्रतिमा के दर्शन करने के लिए आतुर था। सेवादारों की टीमों ने श्रद्धालुओं को कतारबद्ध आने के लिए बैरीकेट्स के अंदर से आने का निर्देश दिया। पुलिस बल भी भीड नियंत्रण के लिए तैनात रहा। मंदिर के अंदर और बाहर श्रद्धालुओं की भीड़ लगातार बढऩे लगी है। जिला प्रशासन की ओर से राज्य सरकार की गाइड लाइन की पालना करने की शर्त पर मेला आयोजित करने की अनुमति दी हुई है। मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए बैरीकेट्स लगाए गए है। मंदिर के बाहर खिलौने और अन्य आइटम की दुकानों पर बच्चों और महिलाओं का तांता लगा रहा। दूर दूराज से भी लोगों ने मंदिर में आकर धोक लगाई।

मंदिर परिसर में लोक देवता बाबा रामदेव को रिझाने के लिए म्हारो हेलो सुणो जी रामापीर.. भजनों से सरोबार किया। सेवादारों ने चप्पल और जूतों को रखने के लिए अलग से स्टाल भी लगाई है।

इस बीच उपखंड अधिकारी उम्मेद सिंह रतनू सहित कई अधिकारियों ने मंदिर परिसर में चल रहे बंदोबस्त का जायजा लिया। वहीं सुखाडि़या सर्किल से शिव चौक तक वाहनों की आवाजाही की रोक लगा दी है।
इधर, पुरानी आबादी में झांकीवाले बालाजी मंदिर में जय सीयाराम का अखंड जाप शुरू हो गया है।

मंदिर के वार्षिकोत्सव को देखते हुए ट्रक यूनियन पुलिया से लेकर उदाराम चौक विशेष सजावट की गई है। इस मंदिर परिसर को फूलों से सजाया गया है। भजन कीर्तनों के बीच श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा।

मंदिर की प्रबंधन समिति की ओर से कोरोना की गाइड लाइन के अनुरुप मास्क वितरित भी किए जा रहे है। वहीं मंदिर में एंट्री करते ही श्रद्धालुओं को सैनेटाइजर कराया जा रहा है।

surender ojha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned