आइसीएसइ-2021: 9वीं व 10 वीं के औसत अंक होंगे परिणाम का आधार

बोर्ड ने स्कूलों से मांगे आंतरिक मूल्याकंन के प्राप्तांक

By: Krishan chauhan

Published: 07 May 2021, 09:55 AM IST

बोर्ड ने स्कूलों से मांगे आंतरिक मूल्याकंन के प्राप्तांक...आइसीएसइ-2021: 9वीं व 10 वीं के औसत अंक होंगे परिणाम का आधार


श्रीगंगानगर.केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 10 वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम तैयार करने के लिए अंक निर्धारण नीति जारी करने के बाद अब काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन ने भी दसवीं कक्षा का परिणाम जारी करने की कवायद शुरू कर दी है। इसके लिए बोर्ड ने सभी स्कूलों को सबंधित विद्यार्थियों के स्कूल स्तर पर किए गए आंतरिक मूल्यांकन के अंक भिजवाने को कहा है। खास बात यह है कि बोर्ड ने 10 वीं के साथ-साथ 9 वीं कक्षा के भी आन्तरिक मूल्यांकन के अंक भेजने के निर्देश जारी किए हैं।
गौरतलब है कि 10 वीं कक्षा की परीक्षा निरस्त करने के बाद आइसीएइ अब 9वीं व 10 वीं के आन्तरिक मूल्यांकन में प्राप्त किए गए अंकों के औसत के आधार पर परिणाम तैयार करने का मसौदा तैयार कर रहा है।

---------
-मूल्यांकन के हैं अलग-2 प्रारुप

सीआइएससीइ का मानना है कि बोर्ड से संबद्ध स्कूलों ने पिछ्ले साल कोविड के चलते भिन्न-भिन्न प्रारुपों मेंआंतरिक मूल्याकंन किए है। कुछ विद्यालयों ने ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की है वहीं कुछ विद्यालय ऐसे भी हैं जिन्होंने ऑफलाइन यूनिट टेस्ट लिए है। ऐसे में ये सामयिक परीक्षण विद्यार्थी के मूल्यांकन का ही मानक हैं।

----------
-परीक्षा की मांग कर सकेंगे विद्यार्थी

बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि मूल्यांकन के लिए जो प्रक्रिया निर्धारित की जाएंगी,उसके अनुसार यदि कोई विद्यार्थी परीक्षा परिणाम से संतुष्ट नहीं है तो वह परीक्षा की मांग कर सकता है। उनकी परीक्षा का आयोजन कोविड-19 की स्थिति सामान्य होने पर भी किया जा सकेगा।

-------
-आरबीएसइ की परीक्षाओं पर होना है निर्णय

जहां एक ओर सीबीएसइ ओर आइसीएसइ 10 वीं का परीक्षा परिणाम तैयार करवा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर कोविड के चलते हैं अजमेर बोर्ड की 10वीं और 12वीं दोनों की कक्षाओं की परीक्षाओं पर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। रेड अलर्ट के कारण इन परीक्षाओं पर निर्णय 17 मई या उसके भी बाद में ही संभव होगा। उल्लेखनीय है कि सीबीएसई ओर आइसीएसइ की भी 12वीं की परीक्षाएं स्थगित हैं।

.......

बोर्ड के निर्देशानुसार छात्रों के नौंवी और 10 वीं के औसत अंक और स्कूल स्तर पर किए मूल्यांकन के अंक भिजवाएं जा रहें हैं। इसी आधार पर विश्लेषण कर परिणाम के संबंध में निर्णय होना है।"

-इस्मायल रिफंग,प्रधानाचार्य, सेवन्थ डे एडवंटिस्ट सी.सै.स्कूल श्रीगंगानगर


सीबीएसइ और आइसीएसइ के संबंध में 10 वीं कक्षा का परिणाम विद्यालय स्तरीय मूल्यांकन के आधार पर गाइडलाइन के अनुसार जारी किया जाना है। जबकि अजमेर बोर्ड के परीक्षार्थियों को बिना भ्रमित हुए घर रहकर परीक्षा तैयारी जारी रखनी चाहिए।

-भूपेश शर्मा, समन्वयक,विद्यार्थी परामर्श केंद्र,शिक्षा विभाग, श्रीगंगानगर

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned