scriptIn posh colonies, the camp remained as a khanpurti | पॉश कॉलोनियों में खानापूर्ति बनकर रह गया प्रशासन शहरों के संग अभियान का कैम्प | Patrika News

पॉश कॉलोनियों में खानापूर्ति बनकर रह गया प्रशासन शहरों के संग अभियान का कैम्प

In posh colonies, the camp remained as a khanpurti- शिविर में पसरा रहा सन्नाटा, न पट्टे के लिए माथापच्ची न लोगों की आवाजाही.

श्री गंगानगर

Published: November 08, 2021 11:35:33 pm

श्रीगंगानगर. नगर परिषद की ओर से आयोजित किए जा रहे प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत शिविर महज खानापूर्ति बनकर रह गए है। खासतौर पर पॉश कॉलोनियों में इन शिविरों में जनसमस्याओं के लिए भी लोग शिकायत तक दर्ज नहीं करवा रहे है।
पॉश कॉलोनियों में खानापूर्ति बनकर रह गया प्रशासन शहरों के संग अभियान का कैम्प
पॉश कॉलोनियों में खानापूर्ति बनकर रह गया प्रशासन शहरों के संग अभियान का कैम्प
इस कारण इक्का दुक्का सरकारी विभाग के कार्मिक आते है वे भी ठाले बैठे रहते है। दीपावली के बाद सोमवार को जवाहरनगर सेक्टर एक स्थित ग्रीन पार्क में प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत शिविर आयोजित किया गया।
इस शिविर में नगर परिषद के सचिव विश्वास गोदारा और उनकी टीम जरूर आई लेकिन लोगों की आवाजाही नगण्य रही। इस जवाहरनगर सैक्टर एक में बड़ी बड़ी कोठियां है, अधिकांश लोगों के पट्टे पहले ही नगर विकास न्यास प्रशासन की ओर से जारी किए जा चुके है।
यह इलाका पहले न्यास क्षेत्र का था। वहीं दूसरी ओर सामाजिक पेंशन और अन्य सरकारी योजनाओं के लिए पात्र परिवार की कमी है। इस कारण लोग शिविर में दिलचस्पी नहीं रख रहे है।

दूसरा पहलू यह भी है कि नगर परिषद प्रशासन ने इस शिविर के लिए प्रचार प्रसार नहीं किया। यहां तक कि शिविर स्थल का पता तक भी प्रेस नोट में जारी नहीं किया गया। इस कारण कई लोग नगर परिषद जाकर शिविर स्थल का पता लगाकर पहुंचे।
यहां तक कि इलाके के पार्षद भी दोपहर साढ़े बारह बजे तक नहीं आए। इस शिविर के दौरान पुरानी आबादी के बलवंत कुमार ने अधिकारियों के समक्ष राजस्थान पत्रिका में छपी खबर की कटिंग दिखाई और बोले कि नामान्तरण का शुल्क अधिकतम एक हजार रुपए लेने का नियम बना हुआ है।
इस खबर में डीएलबी निदेशक की ओर से दिए गए निर्देशों के बारे में उल्लेख किया गया था। इस पर अफसरों का कहना था कि इस शख्स की फाइल के संबंध में पूर्व जमा कराई गई राशि के बारे में हिसाब किताब मांगा जा रहा है।
संबंधित आदेश की प्रति लेकर नामान्तरण के एवज में अधिक वसूल की गई राशि को वापस देने की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। इस शिविर में विद्युत निगम की लगी स्टॉल पर लोगों ने उन अस्थायी अतिक्रमणकारियों के बिजली कनैक्शन पर सवाल उठाया जिनको निगम ने बिना मीटर बिजली उपयोग के लिए कनैक्शन दे रखा है।
इस पर वहां अधिकारियों ने उच्चाधिकारियों के दिशा निर्देश की बातकहकर पल्ला झाड़ लिया। लोगों का कहना था कि जवाहरनगर एरिया सहित कई इलाके में पानवाडि़यों और अन्य खोखा संचालकों को विद्युत निगम ने बिजली आपूर्ति के लिए अस्थायी कनैक्शन दे रखा है।
इंदिरा वाटिका के सामने एक खोखे को उस जगह कनैक्शन दे दिया जिस जगह विद्युत ट्रांसफार्मर लगा हुआ है। इस पर स्टॉल पर बैठे विद्युत कर्मियों का कहना था कि यह तो न्यास अधिकारियों की सिफारिश पर कनेक्शन जारी किया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: गठबंधन के तहत BJP 65 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, जानिए कैप्टन की PLC और ढींढसा को क्या मिलाराष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमसीएम योगी की जीत के लिए उज्जैन के श्मशान में हुई तंत्र साधना, बोले बाबा बमबमनाथ योगी का आना ज़रूरीगणतंत्र दिवस के ठीक बाद Tata ग्रुप की हो जाएगी एयर इंडियाICC Awards: शाहीन अफरीदी बने क्रिकेटर ऑफ द ईयर, पाकिस्तान के 3 खिलाड़ियों ने मारी बाजी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.