-इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ श्रीगंगानगर में बोले लेखक और नाटककार असगर वजाहत

-इंटरनेशन फिल्म फेस्टिवल ऑफ श्रीगंगानगर के अवसर पर शहरवासियों के लिए पेंटिंग प्रदर्शनी भी लगाई गई है।

श्रीगंगानगर.लेखक और नाटककार असगर वजाहत ने कहा है कि कला और साहित्य व्यक्ति को विफलताओं का समाना करने की शक्ति देते हैं। जब व्यक्ति जीवन में सफल हो जाता है तब भी वह रहता मानव ही है, सुपर मानव नहीं बन जाता। ऐसे में उसके सामने कई बार परेशानियां भी आती है। वह निराश भी होता है, विफल भी होता है ऐसे में इन परिस्थितियों का सामना करने का गुर व्यक्ति को कला और साहित्य ही सिखाते हैं। वे मंगलवार को नोजगे पब्लिक स्कूल सभागार में इंटरनेशलन फिल्म फेस्टिवल ऑफ श्रीगंगानगर के दौरान ‘लेखक’ समाज और सिनेमा विषयक परिचर्चा के दौरान संबोधित कर रहे थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned