माल गोदाम के लिए भूमि आवाप्ति का काम अटका

- 17 करोड़ रुपये के बजट का नहीं हो पा रहा उपयोग

By: vikas meel

Published: 07 Jun 2018, 09:24 PM IST

श्रीगंगानगर

निकटवर्ती गांव बनवाली रेलवे स्टेशन पर नए मालगोदाम के निर्माण का मामला लगभग ढाई साल बाद भी सिरे नहीं चढ़ पाया है। प्रस्तावित माल गोदाम के लिए रेल प्रशासन 5 करोड़ रुपये का बजट पहले ही मंजूर कर चुका है मगर रेलवे भूमि के साथ कुछ और भूमि की जमीन आवाप्ति न होने के कारण पूरा प्रोजेक्ट अधर में लटका है। रेल प्रशासन भूमि आवाप्ति के लिए जिला प्रशासन से मदद मांग रहा है। छह माह से रेल प्रशासन का आग्रह धूल फांक रहा है।

 

रेलवे बोर्ड ने आजाद टाकीज के निकट माल गोदाम की भूमि पर नया प्लेटफार्म बनाने का फैसला किया है। इस नए प्लेटफार्म के बनने से जहां यात्रियों को सहूलियत होगी, वहीं श्रीगंगानगर में भी रेल सेवाओं के विस्तार में मदद मिलेगी। रेल प्रशासन ने नए प्लेटफार्म के निर्माण के लिए 12 करोड़ रुपये की मंजूरी हाल ही में मंजूर की है। रेलवे स्टेशन के उत्तरी हिस्से में तीसरे नए प्लेटफार्म के साथ एक टिकट काउंटर भी बनाया जाएगा। इस योजना के सिरे चढ़ते ही श्रीगंगानगर में रेलवे स्टेशन के लिए सैकिण्ड एंट्री गेट की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी।

 

मगर यह योजना तभी सिरे चढ़ेगी, जब वर्तमान माल गोदाम बनवाली में शि?ट हो जाएगा। रेलवे के सहायक अभियंता अवधेश कुमार बताते हैं कि बनवाली में रेलवे लाइन के साथ-साथ कुछ और भूमि की जरूरत है। भूमि आवाप्ति के लिए जिला कलेक्टर को 6 माह पूर्व प्रस्ताव बनाकर भेजा गया था। मगर जिला प्रशासन की ओर से अब तक इस मामले में कोई साकारात्मक जवाब नहीं मिला है। पुरानी धानमंडी के नजदीक माल गोदाम के एक हिस्से को पहले ही बंद कर वहां रेलवे मैटीनेंस यार्ड बनाया जा चुका है। आजाद टाकीज के निकट रेल फाटक को बंद करने से नए प्लेट फार्म के निर्माण का रास्ता प्रशस्त हो गया है। मगर बनवाली में नया माल गोदाम न बनने से 17 करोड़ रुपये के बजट का अब तक उपयोग नहीं हो रहा।a

Show More
vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned