स्कूल पर ताला लगाया और निकल लिए

vikas meel

Publish: Jul, 13 2018 09:46:21 PM (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
स्कूल पर ताला लगाया और निकल लिए

-प्रधानाध्यापक ने दोपहर में ही कर दिया स्कूल बंद

 

-संपर्क किया तो बोले सरकारी काम से नगर परिषद में
श्रीगंगानगर.

शिक्षक कामकाज के प्रति कितना गंभीर हैं, उसकी बानगी शुक्रवार को उस समय नजर आई जब वार्ड पांच स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में दोपहर साढ़े बारह बजे ही ताला लगा मिला। स्कूल में करीब पच्चीस विद्यार्थी और दो शिक्षक नियुक्त हैं, लेकिन शुक्रवार दोपहर यहां छुट्टी जैसा माहौल था। स्कूल पर ताला लगा था। प्रधानाध्यापक को फोन किया गया लेकिन उन्होंने सरकारी कामकाज से बाजार में होने की बात कही। स्कूल टाइम में ही विद्यालय से बाहर होने की बात पर प्रधानाध्यापक मौन साध गए।

 

खटीक मोहल्ला में स्थापित, अब वार्ड पांच में संचालित

यह विद्यालय कुछ वर्ष पहले तक ट्रक यूनियन पुलिया के पास खटीक मोहल्ले में संचालित हो रहा था। बाद में इस विद्यालय को अलग कर इसका संचालन पुरानी आबादी के वार्ड पांच में करना शुरू कर दिया गया। यहां करीब पच्चीस विद्यार्थी भी नए सत्र में जुड़ गए हैं लेकिन शिक्षक परवाह किए बिना अपनी मर्जी से यहां विद्यार्थियों की छुट्टी कर सरकारी कामकाज निपटाने निकल पड़ते हैं।

 

 

पड़ोसी बोले सुबह खुला था स्कूल
इस बारे में 'पत्रिका टीम' ने जब पड़ोसियों से बातचीत की तो पता चला कि सुबह तो स्कूल खुला था लेकिन दोपहर में छुट्टी कर दी गई। उनका कहना था कि उन्हें स्कूल स्टाफ के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

 

सरकारी काम से भी नहीं लगा सकते स्कूल को ताला

भले ही किसी सरकारी स्कूल के एकल शिक्षक को दिन में सरकारी काम हो तब भी उसे इसकी सूचना पीईओ अथवा बीईईओ को देनी होगी। यदि अधिकारियों को सूचित किए बिना स्कूल बंद किया गया है तो जांच कर करवाई जाएगी। कोई भी शिक्षक सरकारी काम से स्कूल को ताला नहीं लगा सकता।
-हरचंद गोस्वामी, जिला शिक्षा अधिकारी (प्रारम्भिक), श्रीगंगानगर

 

कांस्टेबल भर्ती परीक्षा : पहले दिन 16 हजार परीक्षार्थी बैठेंगे

वाहनों के स्वामित्व हस्तातंरण के लिए एनओसी जरूरी नहीं

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned