आरक्षण के विरोध में स्वत: स्फूर्त रहा बंद

आरक्षण के विरोध में  स्वत: स्फूर्त रहा बंद

jainarayan purohit | Publish: Sep, 06 2018 11:36:57 AM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

श्रीगंगानगर.

आरक्षण एवं एससी एसटी एक्ट में संशोधन को रद्द करने के विरोध में सर्व समाज के देशव्यापी आवाहन पर बंद का गुरुवार को इलाके में असर नजर आया। लोगों ने मुख्य बाजार सहित विभिन्न इलाकों में दुकानें बंद रही। गोल बाजार में बहुत सी दुकानें बंद नजर आई। वहीं नागरिकों का कहना था कि उन्होंने स्वेच्छा से दुकानें बंद रखकर विरोध जताया है। बंद का असर जिले के सूरतगढ़, श्रीकरणपुर,गजसिंहपुर, रायसिंहनगर, अनूपगढ़ आदि इलाकों में नजर आया।


सूरतगढ़ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार सर्व समाज के देशव्यापी आवाहन पर आरक्षण एवं एससी एसटी एक्ट में संशोधन को रद्द करने के विरोध में बंद रहा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान व शिक्षण संस्थाएं पूरी तरह बंद रही और आंदोलन को समर्थन दिया।

जानकारी के अनुसार एससी एसटी एक्ट में संशोधन के बाद उसे पुन: केंद्र सरकार की ओर से रद्द किए जाने पर सवर्ण समाज में रोष है। सर्व समाज के देशव्यापी आवाहन पर गुरुवार को शहर में सुबह 8 बजे ही लोग महाराणा प्रताप चौक पर एकत्रित हुए। वहीं व्यापारियों ने भी आरक्षण के विरोध में एवं एससी एसटी एक्ट पर नाराजगी जताते हुए अपने प्रतिष्ठान स्वत: स्फूर्त बंद रखें।

हालांकि शहर के कुछ स्थानों पर कुछ प्रतिष्ठान खुले लेकिन सर्व समाज के प्रतिनिधिमंडल ने दुकानदारों से निवेदन कर उनके प्रतिष्ठान बंद करवा दिए। इसके बाद महाराणा प्रताप चौक पर सर्व समाज के लोग एकत्रित हुए तथा नारेबाजी करते हुए एसडीएम कार्यालय की ओर रवाना हुए। वहां उपखंड अधिकारी को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन देकर आरक्षण को समाप्त करने और एससी एसटी एक्ट को रद्द करने की मांग की।

आरक्षण एवं एससी एसटी एक्ट में संशोधन को रद्द करने के विरोध में सर्व समाज के देशव्यापी आवाहन पर बंद का गुरुवार को इलाके में असर नजर आया। लोगों ने मुख्य बाजार सहित विभिन्न इलाकों में दुकानें बंद रही। गोल बाजार में बहुत सी दुकानें बंद नजर आई। वहीं नागरिकों का कहना था कि उन्होंने स्वेच्छा से दुकानें बंद रखकर विरोध जताया है। बंद का असर जिले के सूरतगढ़, श्रीकरणपुर,गजसिंहपुर, रायसिंहनगर, अनूपगढ़ आदि इलाकों में नजर आया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned