विधायक कुन्नर ने कहा कि कलक्टर साहब, अधिकारियों को प्रोटोकॉल समझाओ

Krishan Ram | Publish: Jun, 15 2019 10:08:55 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

 

‘पेयजल व बिजली आपूर्ति में व्यवधान नहीं आना चाहिए’

--शिक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने जिला स्तरीय मीटिंग में अधिकारियों को चेताया

श्रीगंगानगर.श्रीकरणपुर के पूर्व मंत्री व कांग्रेस विधायक गुरमीत सिंह कुन्नर जब मीटिंग में पहुंचे तो जिला कलक्टर तो उनके सम्मान में खड़े हुए लेकिन अन्य कोई अधिकारी उठे तक नहीं। इस पर कुन्नर ने आपत्ति जताई और कहा कि कलक्टर साहब अधिकारियों को प्रोटोकॉल समझाओ। जन सुनवाई से लेकर मीटिंग शुरू और समाप्त होने तक मंत्री का दौरा को लेकर विवाद होता रहा। शिक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि गर्मी के मौसम में कहीं पर पेयजल आपूर्ति व बिजली संकट की समस्या नहीं आनी चाहिए। आम व्यक्ति की समस्या का प्राथमिकता से निस्तारण किया जाए। वे शनिवार को कलक्ट्रेट सभाहॉल में जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा मीटिंग को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुसार पीडि़त व्यक्ति की जन सुनवाई प्राथमिकता से की जाए। पेयजल के लिए सर्वे कर एक प्लान बनाया जाए।

उन्होंने कहा कि नहरों की टेल पर किसानों को पूरा पानी मिलना चाहिए और जहां पर पक्के खालों का निर्माण नहीं हुआ है वहां पर पक्के खालों का निर्माण किया जाए। पंजाब की नहरों में आ रहे जहरीले पानी के मामले पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार स्तर से पंजाब सरकार से बात की जा रही है। अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्धारित समय पर कार्यालय पहुंचने और कार्यालयों का औचक निरीक्षण करने को कहा। जिले में कानून व्यवस्था और नशे की ब्रिकी पर प्रभावी रोक लगाने को कहा।

किसने क्या मुद्दा उठाया-
गंगानगर विधायक राजकुमार गौड़ ने कहा कि मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू करवाया जाए। सीवरेज में सडक़ निर्माण कार्य सही नहीं हुआ है। चैंबर भी सडक़ से बहुत उंचे बनाएं हैं। ग्रामीण अंचल में पेयजल आपूर्ति का प्लान, श्रीगंगानगर शहर में जल निकासी की पुख्ता व्यवस्था और शहर में दूसरा एसटीपी शुरू किया जाए और ईदगाह एसटीपी का निर्माण कार्य आरयूआईडीपी को देने का मुद्दा उठाया गया। करणपुर विधायक गुरमीत सिंह कुन्नर ने कहा कि पदमपुर में कचरा प्रबंधन, शहर में जल निकासी और शहरों के विकास का प्रोजेक्ट तैयार किया जाए। कुन्नर ने बीएडीपी में पेयजल योजनाओं को शामिल करने का मुद्दा उठाया।

सडक़ निर्माण शुरू करवाया जाए--सादुलशहर विधायक जगदीश जांगिड़ ने गांव दौलतपुरा,10 ए, भोजपुरा व कालूवाला में पेयजल संकट, सामुदायिक चिकित्सालय सादुलशहर में चिकित्सा सुविधाएं,गंगानगर-सादुलशहर सडक़ निर्माण व रेलवे अंडरब्रिज की समस्याएं उठाई।

प्रोपर मॉनिटरिंग की जाए--उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के शासन सचिव व जिले के प्रभारी सचिव वैभव गलरिया ने सडक़ व खाला निर्माण, पेयजल परियोजनाओं के निर्माण की प्रोपर मॉनिटरिंग करने को कहा। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने सीवरेज प्रोजेक्ट में कार्यकारी ऐजेंसी की ओर से कार्यों में देरी करने व मिक्चर प्लांट नहीं लगाने पर जुर्माना लगाया है। शहर में डामर का कार्य पूर्ण करने के बाद आगे सडक़ खोदने की अनुमति दी जाएगी। शहर से जल निकासी के लिये पांच नालों का कार्य शुरू कर दिया है। मीटिंग में पुलिस अधीक्षक हेमन्त कुमार शर्मा, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ.हरितिमा, नगर परिषद सभापति अजय चांडक, जिले की विभिन्न पंचायत समितियों के प्रधान, नगरपालिकाओं के अध्यक्षों सहित अन्य अधिकारी शामिल हुए।

यह दिए निर्देश

-श्रीगंगानगर-सादुलशहर सडक़ का निर्माण कार्य सात दिन में शुरू किया जाए व पदमपुर-करणपुर सडक़ मार्ग की गुणवत्ता की जांच करवाई जाए।

-सादुलशहर सहित जिले में रेलवे अंडर ब्रिज में पानी भरने की समस्या का हल करने के लिए किया पाबंद।

-जिले में जो निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं उनकी यूसी-सीसी कंप्लीट करने में किसी प्रकार की देरी नहीं की जाए।

- माह के प्रथम गुरुवार को पंचायत समिति स्तर पर विधायक की अध्यक्षता में जनसुनवाई की जाए।

मीटिंग से मीडिया को दूर रखा---शिक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा की जिला स्तरीय मीटिंग से मीडिया को दूर रखा गया। दोपहर को जब मीटिंग शुरू हुई तो मीडिया कार्मिक कवरेज करने के लिए मीटिंग के अंदर बैठे हुए थे तब प्रभारी मंत्री व जिला कलक्टर ने कहा कि मीडिया कार्मिक बाहर जाएं। इस पर मीडिया कार्मिकों ने कहा कि मंत्रीजी क्या यह गुप्त मीटिंग हो रही है? कहां गई आपकी पारदर्शिता ? लोकसभा चुनाव से पहले आपने मीडिया को मीटिंग में बुलाकर कवरेज करवाई अब चुनाव हार गए तो दूरी बनानी शुरू कर दी? इसको लेकर मीडियाकर्मी प्रभारी मंत्री सहित अन्य अधिकारियों को खरी-खोटी सुनाते हुए मीटिंग से बाहर चले गए।

आबकारी अधिकारी को जिले से जाना होगा बाहर--सादुलशहर विधायक जगदीश जांगिड ने मीटिंग में मुद्दा उठाया कि जिला आबकारी अधिकारी ने जिले का बेड़ा गरक कर दिया है। वे सादुलशहर में अवैध शराब ठेका को लेकर आबकारी अधिकारी से खफा थे। इसके अलावा जिले में भी कई जगह नाजायज आबकारी ठेके संचालित किए जा रहे हैं। इसका मुद्दा मीटिंग में उठाते हुए कार्रवाई की मांग की गई। इस पर प्रभारी मंत्री डोटासरा ने जिला आबकारी अधिकारी भूपेंद्र सिंह के कार्यों में लापरवाही बरतने तथा जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा करने पर श्रीगंगानगर से हटाने का निर्णय लिया है। प्रभारी मंत्री ने मीटिंग में कहा कि अब जिला आबकारी अधिकारी की सेवांए यहां पर ठीक नहीं रही है। इसलिए इनको अन्य जिले में भेजा जाएगा। उधर, आबकारी अधिकारी ने कहा कि जो हुआ, वो आपके सामने हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned