पानी की डिग्गी में बेटी को डूबने से बचाने के लिए मां कूदी, डूबने से दोनों की हुई मौत

श्रीगंगानगर जिले के घड़साना में चक 21 जीडी में रविवार को खेत में बनी सिंचाई पानी की डिग्गी में बेटी को बचाने के प्रयास में मां भी डूब गई।

By: Kamlesh Sharma

Published: 06 Jan 2020, 09:02 PM IST

घड़साना(श्रीगंगानगर)। श्रीगंगानगर जिले के घड़साना में चक 21 जीडी में रविवार को खेत में बनी सिंचाई पानी की डिग्गी में बेटी को बचाने के प्रयास में मां भी डूब गई। इस हादसे की जानकारी काफी देर बाद परिजनों को जानकारी मिली। पुलिस ने इस संबंध में मर्ग दर्ज कर जांच शुरू की है।

जांच अधिकारी छेलसिंह बीठू ने प्राथमिक जांच पड़ताल के बाद बताया कि गांव 19 जीडी की रहने वाली महिला किसान अमनदीप कौर (29) पत्नी मोघासिंह मजहबी रविवार को अपनी नौ वर्षीय बेटी हरमनदीप कौर के साथ बैलगाड़ी पर खेत में चारा काटने गई थी। चारा काटने के दौरान खेत में लगी मूली भी चारे के साथ ले ली।

इसके बाद चारे को बैलगाड़ी पर लाद कर घर के लिए रवाना हो गई। इसी दौरान खेत के एक हिस्से में बनी सिंचाई पानी की डिग्गी में उखाड़ी मूली को धोने के लिए हरमनदीप कौर डिग्गी में उतरी। संभवत: मूली धोने के लिए प्रयास में उसका पैर फिसल गया। बेटी को बचाने के लिए अमनदीप कौर भी डिग्गी में कूद गई।

दोनों डिग्गी में डूब गई। मां-बेटी के काफी देर तक घर नहीं पहुंचने पर मोघासिंह मजहबी अपने परिचित कृपाल सिंह को साथ लेकर चक 21 जीडी स्थित खेत गया।

तब बैलगाड़ी डिग्गी के पास खड़ी मिली। डिग्गी के बााहर मां बेटी के जूते-चप्पल भी मिली। वहीं मां-बेटी भी डिग्गी में मिलने पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने दोनों के शव बाहर निकलवाकर पीहर पक्ष को सूचना दी। पीहर पक्ष ने पुलिस कार्रवाई से इनकार कर दिया।

Kamlesh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned