scriptNow inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too ex | SriGanganagar अब महंगाई वाला कोरोना: बढ़ रहा सरिया का दाम, मिट्टी और सीमेंट भी महंगी | Patrika News

SriGanganagar अब महंगाई वाला कोरोना: बढ़ रहा सरिया का दाम, मिट्टी और सीमेंट भी महंगी

Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive- ठेकेदारों में मचा हडक़ंप, दरें बढऩे से अटका सकता है निर्माण कार्यो का ठेका

श्री गंगानगर

Updated: April 07, 2022 10:05:20 am

SriGanganagar श्रीगंगानगर। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive उम्मीद थी कि कोरोना की तीसरी लहर समाप्त होते ही बाजार में रौनक आएगी। लेकिन रूस-यूक्रेन युद्ध की वजह से पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बाद भवन निर्माण सामग्री भी महंगी दरों पर बिकने लगी हैं। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive
SriGanganagar अब महंगाई वाला कोरोना: बढ़ रहा सरिया का दाम, मिट्टी और सीमेंट भी महंगी
SriGanganagar अब महंगाई वाला कोरोना: बढ़ रहा सरिया का दाम, मिट्टी और सीमेंट भी महंगी
एकाएक तेजी आने अपना आशियाना बनाने वाले आर्थिक नुकसान पडऩे लगा हैं। भवन निर्माण सामग्री बढऩे से लोगों को झटका लगा हैं। करीब पन्द्रह से बाइस फीसदी तक भवन निर्माण की लागत में वृद्धि हो गई हैं। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive
मिट्टी की ट्रॉली पिछले साल पांच सौ रुपए मिल रही थी लेकिन अब इसका दाम 800-850 रुपए प्रति ट्रॉली तक पहुंच चुका हैं। इससे भवन निर्माण की नींव भराई के लिए लोगों के पसीने छूटने लगे है। पहले ढाई से तीन लाख रुपए में नींव का काम पूरा हो जाता था, अब इसके लिए करीब दो लाख रुपए ज्यादा चुकाने पड़ रहे है। लोहे के सरिया के तेवर तीखे हुए है। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive
साठ रुपए के दाम वाला सरिया अब 92 रुपए तक पहुंच चुका हैं। यही स्थिति सीमेंट की है। प्रति थैला 290-315 रुपए से बढकऱ 340 से 350 रुपए तक प्रति थैला दाम पहुंच गया हैं। रेता भी एक सौ रुपए प्रति क्विंटल से बढकऱ 130 रुपए तक जा पहुंचा है। इसी प्रकार ईंटों के दाम भी 4200 रुपए से बढकऱ 4400 रुपए प्रति हजार ईंट हो गए है। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive
भवन निर्माण सामग्री में एकाएक वृद्धि का नुकसान उन ठेकेदारों को भुगतना भी पड़ेगा जिन्होंने कम दरों पर भवन या पुलिया निर्माण या नाली निर्माण या सीसी रोड निर्माण का ठेका लिया था। नगर विकास न्यास और नगर परिषद के कई ठैकेदारों ने इस नए वित्तीय वर्ष में अभी तक निर्माण कार्य शुरू नहीं किया गया हैं। corona news
मजदूरों का भी टोटा, खेतों में अधिक मजदूरीग्रामीण क्षेत्र में इन दिनों सरसों, चना और गेहूं की कटाई का दौर चल रहा है। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive इस कारण इलाके के मजदूर खेतों में मजदूरी करने पसंद कर रहे है। इसकी वजह भी है कि खेत में अधिक मजदूरी, चाय आदि की सुविधा के अलावा बालण यानि चूल्हा जलाने के लिए लकड़ी या झाड़ भी मुफ्त में मिल जाता हैं। जबकि भवन निर्माण कार्यो में ऐसी सुविधा नहीं मिलती। Now inflationary corona: rising prices of bars, soil and cement too expensive
मकान बनाने वाले ठेकेदार राजू चलाना का कहना है कि करीब दो महीने पहले जो छोटा सा मकान करीब सौलह लाख रुपए में बन जाता था, अब भवन निर्माण सामग्री में आई तेजी के कारण यह बजट बाइस लाख रुपए तक पहुंच गया हैं। ठेकेदार के अनुसार लोहे के दाम पिछले तीन महीने से लगातार बढ़ते जा रहे है।
भवन सामग्री का गणित

सामग्री का नाम पहले दाम अब दाम

मिट्टी की ट्रॉली 500-550 800-850

सीमेंट का थैला 290-300 340-350

ग्रीट प्रति क्विंटल 090 रुपए 110 रुपए

लोहे का सरिया 60 से 62 रुपए 92 रुपए
रेता 100 रुपए 112 रुपए

बजरी 60 से 62 रुपए 84 रुपए

ईंट प्रति हजार 4150 रुपए 4300 रुपए

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.