अब साधारण किराए में ले सकेंगे लग्जरी सफर का आनंद

pawan uppal

Publish: Jul, 14 2018 07:55:04 AM (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
अब साधारण किराए में ले सकेंगे लग्जरी सफर का आनंद

-जयपुर रूट पर यात्रियों को शुक्रवार से एक और ट्रेन मिल गई। यह प्रत्येक बुधवार को चलेगी।

सूरतगढ़. हनुमानगढ़.

जयपुर रूट पर यात्रियों को शुक्रवार से एक और ट्रेन मिल गई। यह प्रत्येक बुधवार को चलेगी। श्रीगंगानगर के यात्री सूरतगढ़ या हनुमानगढ़ जाकर इसमें यात्रा कर सकेंगे। तीन राज्यों को जोडऩे वाली बीकानेर-बिलासपुर ट्रेन (अंत्योदय एक्सप्रेस)बीकानेर, हनुमानगढ़, सादुलपुर, चूरू, डेगाना, फुलेरा व जयपुर होते हुए बिलासपुर जाएगी। यह ट्रेन हर बुधवार को चलेगी। इसी तरह वापसी में बिलासपुर से रवाना होकर ट्रेन हर रविवार को हनुमानगढ़ स्टेशन पर रात पौने दस बजे पहुंचकर दस बजकर पांच मिनट पर रवाना होगी।

जयपुर-कोटा ट्रेन जयपुर के लिए पहले से ही उपलब्ध है। बाईस कोच वाली यह ट्रेन राजस्थान, मध्यप्रदेश तथा छत्तीसगढ़ राज्यों को जोड़ेगी। पूरी तरह अनारक्षित कोच वाली इस सुपरफास्ट ट्रेन में रेल यात्री साधारण किराए में लग्जरी सफर का आनंद उठा सकेंगे। शुक्रवार को यह ट्रेन बीकानेर से चलकर दोपहर 3.35 बजे सूरतगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंची। जहां सांसद निहालचंद मेघवाल, विधायक राजेन्द्र भादू आदि ने ट्रेन के चालक, सह चालक व गार्ड आदि का मालाएं पहनाकर व मिठाई खिलाकर स्वागत किया।


दो नई ट्रेनें और चलेंगी
रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर आयोजित स्वागत समारोह में सांसद निहालचंद मेघवाल ने कहा कि शीघ्र ही दो नई ट्रेन बीकानेर से नांदेड़ व बीकानेर से कोच्चि सूरतगढ़ होकर गुजरेगी। इन ट्रेनों के श्रीगंगानगर तक विस्तार के लिए रेलवे से सैद्धांतिक मंजूरी मिल चुकी है। वहीं बीकानेर से दादर सुपरफास्ट को भी श्रीगंगानगर तक बढ़ाने के लिए रेल मंत्रालय को प्रस्ताव दिया जा चुका है। सांसद ने कहा कि हनुमानगढ़ व श्रीगंगानगर में विद्युत ट्रेनें चलने का सपना भी जल्द साकार होगा। रेलवे ट्रैक के विद्युतीकरण के लिए केन्द्र सरकार 286 करोड़ रुपए खर्च करेगी। इसमें श्रीगंगानगर से बठिण्डा तक विद्युत ट्रेनों के संचालन के लिए 116 करोड़ ट्रेक विद्युतीकरण पर खर्च होंगे।


अंत्योदय ट्रेन की खासियत
अंत्योदय ट्रेन की घोषणा दो वर्ष पहले तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने की थी। पूर्णत: अनारक्षित श्रेणी की यह ट्रेन राजधानी ट्रेन से भी अधिक गति वाली ट्रेन है। इस ट्रेन की गति 130 किमी प्रतिघंटा तक है। सबसे खास बात यह है कि इसमें जनरल टिकट पर लग्जरी सफर का आनंद लिया जा सकता है। अंत्योदय ट्रेन के प्रत्येक कोच में पीने के पानी के लिए एक्वागार्ड मशीन, चाय कॉफी और दूध के लिए वेडिंग मशीन, हर कोच में बायो टॉयलेट की सुविधा उपलब्ध है। टहर कोच में सीसीटीवी कैमरे भी लगे हुए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned