एक यूनिट रक्त से बचाई जा सकती है किसी की जान

Krishan Ram | Updated: 14 Jun 2019, 07:52:45 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

अंतरराष्ट्रीय रक्तदान दिवस.....

यूनिट रक्त से बचाई जा सकती है किसी की जान

डॉक्टर सहित कई कार्मियों न किया रक्तदान

श्रीगंगानगर. विश्व रक्तदान दिवस पर शुक्रवार को राजकीय जिला चिकित्सालय, तपोवन ब्लड बैंक समिति सहित कई जगह कार्यक्रम हुए। रक्तदान कर रक्त की कमी से किसी की जान नहीं जाए, ऐसा संकल्प लिया गया और इस मौके पर रक्तदान करने वालों का सम्मान किया गया।

चिकित्सालय में रक्तदान शिविर में 40 यूनिट रक्तदान किया गया। इसमें डॉ. हरविंद्र सिंह, नर्सिंग कार्मिक, लैब टैक्नीशियन सहत अन्य कर्मियों ने रक्तदान किया। इस मौके पर लैब प्रभारी डॉ. सुनीता सरदाना व डॉ. मनमोहन मित्तल व सीनियर लैब टैक्नीशियन रामबिहारी शर्मा ने ब्लड बैंक स्टाफ के रक्तदान करने व अन्य रक्तदाताओं को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया गया।
तपोवन ब्लड बैंक समिति की ओर से सुबह 7 बजे जवाहरनगर, इंदिरा वाटिका में एक रक्तदान शिविर लगाया गया। इसमें 40 यूनिट रक्त संग्रहीत किया गया। इसके उपरांत तपोवन ट्रस्ट प्रांगण में रक्तदान की महत्ता एवं आवश्यकता को लेकर सुबह दस बजे संगोष्ठी हुई। शिविर में रक्तदान करने वालो को सम्मानित किया गया। रक्तदान शिविर में नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष संजय महिपाल एवं ज्योति कांडा ने अपनी सेवाएं दी एवं तपोवन ब्लड बैंक समिति का समस्त स्टॉफ उपस्थित रहा।

संगोष्ठी में तपोवन ब्लड बैंक समिति के अध्यक्ष उदयपाल झाझडिय़ा ने रक्तदान की महत्ता को बताया एवं तपोवन ब्लड बैंक प्रगति रिपार्ट पर प्रकाश डाला। इस मौके पर तपोवन ब्लड बैंक समिति के उपाध्यक्ष निर्मल जैन, मेडिकल ऑफिसर डॉ. माया शंकर, कृष्ण खीचड़, सुरेंद्र शर्मा, निर्मल जैन तपोवन ब्लड बैंक से स्टाफ जुगल किशोर भट्टड़ आदि शामिल हुए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned