scriptPM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies o | पीएम आवास योजना: जिले के स्थानीय निकायों में आवेदनों की छंटनी का दौर | Patrika News

पीएम आवास योजना: जिले के स्थानीय निकायों में आवेदनों की छंटनी का दौर

PM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies of the district- डीएलबी निदेशक के आदेश पर पूरे जिले के निकाय कार्मिकों ने झोंकी ताकत

श्री गंगानगर

Updated: April 17, 2022 09:57:14 am

श्रीगंगानगर। प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत पूरे जिले में पात्र परिवारों के लिए आवेदनों की छंटनी फिर से शुरू हो गई है। शनिवार को सरकारी अवकाश के बावजूद जिले की दस नगर पालिकाओं और नगर परिषद श्रीगंंगानगर ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के लिए आवेदन करने वालों का पुन: भौतिक सत्यापन का दौर शुरू किया गया। PM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies of the district
पीएम आवास योजना: जिले के स्थानीय निकायों में आवेदनों की छंटनी का दौर
पीएम आवास योजना: जिले के स्थानीय निकायों में आवेदनों की छंटनी का दौर
यह पूरी प्रक्रिया रविवार शाम तक करनी है, इसलिए कई पालिकाओं ने देर शाम तक सर्वे की प्रक्रिया अपनाई। जिले की सूरतगढ़, अनूपगढ़, श्रीविजयनगर, रायसिंहनगर, गजसिंहपुर, केसरीसिंहपुर, पदमपुर, सादुलशहर, श्रीकरणपुर और लालगढ जाटान नगर पालिकाएं शामिल की गई है। PM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies of the district
स्थानीय निकाय विभाग जयपुर के निदेशक ह्रदेय कुमार शर्मा के आदेश पर स्थानीय निकायों के कार्मिकों का अवकाश समाप्त कर सर्वे में लगाया। निदेशक के अनुसार रविवार शाम तक यह पूरी रिपोर्ट बनाकर जिला कलक्टर के माध्यम से डीएलबी को भिजवाई जाएगी। PM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies of the district
नगर परिषद के जेईएन सिद्धार्थ जांदू ने बताया कि पहले एक ठेका कंपनी ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के लिए 6207 फार्म एकत्रित किए थे। इसमें पात्रता की शर्त थी कि आवेदनकर्ता की सालाना आय तीन लाख रुपए तक होनी चाहिए।
21 वर्ग मीटर से अधिक पक्का निर्माण नहीं हो। सरकारी कार्मिक नहीं होने और सबसे अहम संबंधित आवेदनकर्ता के पास भूखंड का पट्टा होना जरूरी है। लेकिन अधिकांश लोगों के पास पटटे नहीं थे और कईयों के घर पक्के बनने है। इस पर एकत्र 6207 फार्मो की जांच के दौरान 5900 आवेदन खारिज हो गए थे। शेष 307 फार्म पात्र होने के बावजूद लंबित थे।PM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies of the district
लेकिन अब डीएलबी ने सभी फार्मो की फिर से जांच करने के आदेश किए है। शनिवार शाम पांच बजे तक कुल छह हजार में से चार हजार फार्म फिर से निरस्त किए जा चुके है। शेष 1800 फार्मो की जांच रविवार शाम तक पूरी हो जाएगी।
PM Awas Yojana: Round of sorting of applications in the local bodies of the district
अब तक पूरी प्रक्रिया के दौरान डीएलबी ने प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के लिए एक एक आवेदन की फिर से जांच कराने की कवायद की है। डीएलबी की मंशा है कि एक भी पात्र परिवार भी वंचित नहीं होना चाहिए। इसलिए पहले नगर परिषद और नगर पालिकाअेां के कार्मिको के माध्यम से पात्र और अपात्र परिवारों की सूची की जांच कराई जा रही है। इधर, नगर परिषद प्रशासन ने रविवार शाम को फिर से कार्मिकों की बैठक बुलाकर सोमवार से डोर टू डोर सर्वे कराने के संकेत दिए है। इसके बाद ही हकीकत सामने आएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.