पुलिस ने फिर रिमांड पर लिए 38 करोड़ गबन के मुख्य आरोपी सहित तीन जने, तीनों से पूछताछ जारी

Raj Singh Shekhawat | Updated: 13 Aug 2019, 11:41:17 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

पंद्रह अगस्त तक रिमांड पर लिया

 

श्रीगंगानगर. मुख्य ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में हुए 38 करोड़ गबन के मामले में रिमांड अवधि समाप्त होने के बाद मंगलवार को मुख्य आरोपी ओमप्रकाश शर्मा व दो सटोरियों को अदालत में पेश किया गया। जहां से पुलिस ने तीनों को फिर से पंद्रह अगस्त तक रिमांड पर लिया है। पुलिस आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर रही है।

 

पुरानी आबादी थाना प्रभारी दिगपाल सिंह ने बताया कि शिक्षा अधिकारी कार्यालय में 38 करोड़ के गबन के मामले में मुख्य आरोपी ओमप्रकाश शर्मा रिमांड पर चल रहा था। वहीं गबन की राशि सट्टे में लगाने के मामले के आरोपी कुलवंत सिंह व गिरधारीलाल लाल भी 13 अगस्त तक रिमांड पर थे। जिनसे पूछताछ चल रही थी। मंगलवार को तीनों आरोपियों को अदालत में पेश किया गया, जहां से तीनों को रिकवरी के लिए फिर से पंद्रह अगस्त तक रिमांड पर लिया गया है।

 

पुलिस आरोपियों से गहनता से पूछताछ कर रही है। उन्होंने बताया कि आरोपियों से अभी काफी कुछ बरामद किया जाना है। इसलिए फिर से रिमांड पर लिया गया है। इस मामले में पुलिस अन्य आरोपियों की भी तलाश कर रही है। जिसमें चिह्नित किए गए सात सटोरिए भी शामिल है। इसके अलावा विभाग के अन्य कर्मचारियों की संलिप्तता की भी जांच चल रही है। इस पर भी जल्द ही कार्रवाई की जाएगी।

 

जयपुर भेजी एक पुलिस टीम

- गबन के मामले में जांच में जुटी गई टीमों से एक टीम को जयपुर भेजा गया है। जहां विभाग के मुख्यालय से भी रेकॉर्ड लिया जाएगा। जिसका यहां से रेकॉर्ड से मिलान किया जाएगा। यहां कितनी राशि आई और कितनी राशि विभाग के कार्यों तथा गबन की गई। इसके अलावा आरोपियों की संपति आदि के संबंध में भी यह टीम जयपुर में जानकारी जुटा रही है।, जिससे जल्द से जल्द बरामदगी की जा सके।

 

अंबेडकर कॉलेज में हुए गबन का रेकॉर्ड मांगा

- डॉ. भीमराव अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय में पांच-छह साल पहले हुए लाखों के गबन की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद मामले की जांच एसआई जयसिंह को सौंपी गई थी। राजकीय अवकाश होने के कारण मंगलवार को जांच अधिकारी की ओर से गबन से संबंधित रेकॉर्ड के लिए कॉलेज प्रशासन को पत्र भेजा है। जिसमें गबन से संबंधित पूरा रेकॉर्ड पुलिस को शीघ्र उपलब्ध कराने के लिए लिखा है। पुलिस को बुधवार तक रेकॉर्ड उपलब्ध कराए जाने की उम्मीद है।

 

उल्लेखनीय है कि दस अगस्त को कॉलेज प्रिंसिपल मदन सिंह ने कनिष्ठ लिपिक संतोष पटवाल के खिलाफ कॉलेज में पांच लाख रुपए गबन करने का मामला दर्ज कराया था। यह मामला करीब पांच-छह साल पुराना है। जिसमें आरोपी ने कॉलेज में लाखों का गबन किया था। गबन पकड़ में आने के बाद कमेटी से जांच कराई गई थी। जांच के बाद कमेटी ने आरोपी को ब्याज सहित राशि जमा कराने के नोटिस दिए थे।

 

आरोपी ने काफी राशि जमा कराई थी। कुछ राशि जमा नहीं हो पाई। जब इस मामले का पता उच्च शिक्षा निदेशालय को चला तो हडक़ंप मच गया। गबन के मामले में तुरंत एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश मिले थे। इसके बाद ही एफआईआर दर्ज हो सकी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned