बॉर्डर से पांच पैकेट हेरोइन लेकर गए गिरोह के तीन तस्करों की कर ही पुलिस तलाश

- हेरोइन लेने वाले व पचास लाख रुपए देने वाले की तस्दीक में जुटी एजेंसियां

By: Raj Singh

Published: 11 Oct 2021, 11:21 PM IST

श्रीगंगानगर. हिन्दुमलकोट थाना पुलिस ने बॉर्डर पर पाकिस्तान की ओर से फेंकी गई हेरोइन का पैकेट लेकर फरार हुए पंजाब के मुख्य तस्कर के सरेंडर करने पर पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया था। जिसको शनिवार को अदालत में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर चल रहा है। वहीं गिरोह से जुड़े तीन अन्य आरोपियों की भी पुलिस तलाश में जुटी हुई है। इसके अलावा गिरोह ने जिस व्यक्ति को डिलीवरी दी और जिससे पचास लाख रुपए उसके मामले में तस्दीक की जा रही है।


सीओ ग्रामीण भंवरलाल ने बताया कि मामले में डिलीवरी खेत में मुहैया करवाने वाले एवं सीमा की विडियो उपलब्ध करवाने वाले पंजाब के तस्करों के स्थानीय सहयोगियों को गिरफ्तार किया एवं सीमा पर डिलीवरी लेने में सहयोगी रहे आरोपियों को गिरफ्तार किया एवं हेरोइन डिलीवरी में मुख्य भूमिका निभाने वाले अमनदीपसिंह निवासी सुकने पीर इस्माईल खान फिरोजपुर पंजाब को गिरफ्तार किया था।

जिससे पुलिस की कई दिन तक कड़ी पूछताछ चली थी। पूछताछ में सामने आया कि आरोपी महेन्द्र सिंह उर्फ मिन्दर उर्फ मिस्त्री उर्फ मोटा उर्फ भौमा सिंह उर्फ भोमी उर्फ मंदर पुत्र चिमनसिंह निवासी झूग्गे किशोरसिंहवाला थाना ममदोद, फाजिल्का पंजाब है। जिसके खिलाफ अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास डिलीवरी के लिए सहयोगी तैयार कर एवं घटना की रात को अपने नेतृत्व में साथियों को तारबन्दी के पास ले जाना तथा अपनी लोकेशन, सीमा के विडियो पाक तस्करों से शेयर कर डिलीवरी के रूप में पांच पैक्ट हेरोइन हासिल करना रहा।

बीएसएफ को पता चलने पर सुरक्षित भगाने के लिए पाक तस्करों को बीएसएफ पर फायर करने के लिए उत्प्रेरित करने के मामले में आरोपी महेन्द्र सिंह पर दबाब बनाया गया। जिससे आरोपी ने सरेंडर किया, जिसको गिरफ्तार कर लिया था। जो अभी रिमांड पर चल रहा है। जिसकी जल्द ही संयुक्त पूछताछ कराई जाएगी।


पूछताछ के दौरान पुलिस को इनके गिरोह में गोरा, कुलवंत व हरनेक के नाम भी आए हैं। पुलिस व बीएसएफ इनकी तलाश कर रही है। अब पुलिस को गिरोह के गिरफ्तार सदस्यों से पूछताछ में पता चला है कि इन्होंने हेरोइन के पांच पैकेट ले जाकर भूपेन्द्र नाम के व्यक्ति को दिए थे और इसके बदले सोनू नाम के व्यक्ति ने पचास लाख रुपए दिए थे। पुलिस भूपेन्द्र व सोनू के मामले में पुलिस व बीएसएफ तस्दीक कर रही है।


यह था घटनाक्रम
- 8 फरवरी को बीएसएफ की सीमा चौकी मदनलाल के कंपनी कमाण्डर रविन्द्र प्रताप सिंह ने हिन्दुमलकोट थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 8 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दौराने गश्त वायरलैस से मिली सूचना पर बीएफएल 134-135 पहुंचने पर मालूम चला कि सीमा सुरक्षा तारबन्दी से आगे टॉर्च की रोशनी की तो पाकिस्तान की तरफ से दो संदिग्ध व्यक्तियों की गतिविधियां दिखी।

इन व्यक्तियों की तरफ रोशनी की तो उन्होंने फायर किया। जिनको जवाबी फायर दिया तो दोनों पाकिस्तान की सीमा मे भाग गए। चैकिंग के दौरान तारबन्दी के पास प्लास्टिक पैक्ट में 999 ग्राम हेरोइन मिली। जिसको बरामद कर लिया गया। पुलिस ने आरोपी सतनामसिंह, लखविन्द्रसिह उर्फ लखा, बलविन्द्रसिंह उर्फ बिन्द्र, सतपालसिंह उर्फ पालू, दीपकसिंह, पवनदीप कौर को पहले गिरफ्तार किया था।

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned