आरओबी अब जीजी सेतू, एसएसबी रोड अटल मार्ग

आरओबी अब जीजी सेतू, एसएसबी रोड अटल मार्ग

Jai Narayan Purohit | Publish: Sep, 06 2018 11:18:57 AM (IST) Sri Ganganagar, Rajasthan, India

श्रीगंगानगर.

नगर विकास न्यास प्रशासन ने विधानसभा चुनाव को देखते हुए ट्रस्ट की बैठक में नया निमाज़्ण कराने के बजाय पुराने कायोज़्ं के नामकरण से लोकप्रियता बटोरने का प्रयास किया है। वहीं कई समाजिक संस्थाओं को रियायती दरों पर भूखण्ड उपलब्ध कराने का प्रस्ताव भी पारित किया गया है।


नगर विकास न्यास की ट्रस्ट बैठक बुधवार दोपहर बारह बजे होनी थी लेकिन अधिकांश अधिकारियों की सीएम की गौरव यात्रा की व्यस्तता के कारण इसे टालकर दोपहर दो बजे किया गया, तब भी कई अधिकारी नहीं आए। ऐसे में कई अधिकारी अपराह्न तीन बजे तक पहुंचे और फिर हो गई बैठक की रस्म अदायगी।


इस बैठक में मीरा चौक से पुलिस लाइन तक निमाज़्ण हो चुके रेलवे ओवरब्रिज का नाम गुरु गोलवेकर सेतू नामकरण रखने का प्रस्ताव पारित किया गया। इसी तरह मीरा चौक के पास एसएसबी रोड का नाम अब दिवंगत पूवज़् प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजेपयी के नाम पर अटल मागज़् करने, सूरतगढ़ रोड पर शिव चौक से सूरतगढ़ बाइपास तक सरदार पटेल मागज़्, टाइनी टोट्स स्कूल के पास चौक का नाम प्रजापत चौक, सूरतगढ़ रोड पर ही ट्रैक्टर माकेज़्ट और जस्सा सिंह मागज़् के बीच चौराहे को पंडित दीनदयाल उपाध्याय चौक करने का प्रस्ताव पारित किया गया है।

न्यास अध्यक्ष संजय महिपाल ने बताया कि इन नए नामकरणों का प्रस्ताव पारित किया गया है, अब राज्य सरकार की ओर से गठित कमेटी के लिए अनुशंसा कराने के संबंध में भिजवाया जाएगा। उसके बाद ही इन नए नामों का अस्तित्व आ सकेगा।


रियायतों का खोला पिटारा
विधानसभा चुनाव से पहले इस बैठक को लेकर अधिक दिलचस्पी देखने को मिली। रियायत को लेकर कई लोग सक्रिय नजर आए। इस बैठक में सद्भावना नगर में यूआईटी प्रशासन ने सारस्वत ब्राह्मण समाज, रामगढिय़ा समाज, सिख समाज, जाट समाज, सेवा भारती, धानक समाज को रियायती दरों पर 750 से 1000 वगज़्मीटर साइज के भूखण्ड उपलब्ध करवाने का निणज़्य किया। इसके लिए सरकार से अनुमोदन कराया जाएगा।

न्यास अध्यक्ष महिपाल ने बताया कि दपज़्ण इंक्लेव कॉलोनी सहित कई कॉलोनियों की लीज माफी संबंधित चचाज़् हुई। ऐसी कॉलोनियों में हर साल लीज राशि न्यास प्रशासन वसूली के लिए नोटिस जारी करता है लेकिन वहां एरिया आबाद नहीं है। ऐसे में पूणज़् लीज माफी या छूट के संबंध में चचाज़् भी की गई, यह प्रस्ताव बनाकर सरकार के पास भिजवाया जा रहा है ताकि संबंधित इलाके के बांशिदों को राहत मिल सके।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned