पीबीएम अस्पताल में चालानी गार्ड को धक्का देकर भागा बंदी

- श्रीगंगानगर जेल में एनडीपीएस एक्ट में था अंदर

By: Raj Singh

Published: 22 Feb 2021, 12:18 AM IST

श्रीगंगानगर/बीकानेर. मादक पदार्थ तस्करी मामले में श्रीगंगानगर जेल का एक बंदी पीबीएम अस्पताल बीकानेर में रविवार शाम को चालानी गार्ड को धक्का देकर फरार हो गया। पुलिस जवानों ने उसका पीछा भी किया लेकिन वह हाथ नहीं लगा। जवानों ने बंदी के भागने की पीबीएम पुलिस चौकी सूचना दी। इसके बाद जिलेभर में नाकाबंदी कराई और श्रीगंगानगर पुलिस को सूचित किया।


सदर सीआइ महावीर प्रसाद ने बताया कि पंजाब के गुरुदासपुर निवासी गुरजिंदर सिंह (38) पुत्र सुखदेव सिंह श्रीगंगानगर जेल में मादक पदार्थ तस्करी के मामले में बंद था। उसकी तबीयत खराब होने पर उसे श्रीगंगानगर जेल से बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में इलाज के लिए 13 फरवरी को भर्ती कराया गया।

वह मेडिसिन आईसीयू में भर्ती था। रविवार 21 फरवरी को शाम चार बजे वह पेशाब के बहाने से गया। इस दौरान वह चालानी गार्ड को धक्का देकर भाग गया। अचानक हुए घटनाक्रम से चालानी गार्ड सकपका गए। आनन-फानन में वे उसके पीछे भी भागे लेकिन वह उनके हाथ नहीं लगा।


चौकी पर दी सूचना
चालानी गार्ड में शामिल एएसआई रामलाल व सिपाही ने पीबीएम पुलिस चौकी पहुंच कर बंदी गुरजिंदर के चकमा देकर भागने की सूचना दी। साथ ही श्रीगंगानगर पुलिस एवं जेल प्रशासन को बंदी के भागने की इत्तला दी। बीकानेर पुलिस कंट्रोल रूम ने सूचना के तुरंत बाद जिले में नाकाबंदी कराई। वहीं चालानी गार्ड और स्थानीय पुलिस भी देर रात तक बंदी की तलाश में जुटी रही लेकिन वह हाथ नहीं लगा।


नशे का आदी है आरोपी
- जेल सूत्रों ने बताया कि फरार हुआ बंदी नशा करने का आदी है और उसको दौरे आते रहते थे। जिसको श्रीगंगानगर के राजकीय चिकित्सालय में कई बार इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। जिसको श्रीगंगानगर से बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में रैफर किया गया था।


बंदी के भागने पर उठते सवाल
- लोगों की माने तो जो बंदी उठकर भागने में सक्षम है और पुलिसकर्मियों से तेज दौड़ सकता है, वो आईसीयू वार्ड में भर्ती कैसे हुआ। उसको श्रीगंगानगर के अस्पताल से यहां रैफर किया गया था, जो भागने में सक्षम था। इस तरह के बंदी हनुमानगढ़ व श्रीगंगानगर की जेलों से जिला अस्पतालों व इसके बाद यहां रैफर किए जाते रहते हैं।

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned