मूंग की गुणवत्ता पर विवाद, किसानों-मजदूरों ने जताई नाराजगी

vikas meel

Publish: Oct, 12 2017 09:14:46 (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
मूंग की गुणवत्ता पर विवाद, किसानों-मजदूरों ने जताई नाराजगी

मूंग की सरकारी खरीद में गुणवत्ता को लेकर गुरुवार को नई धान मंडी में मामूली विवाद हुआ।

श्रीगंगानगर.

मूंग की सरकारी खरीद में गुणवत्ता को लेकर गुरुवार को नई धान मंडी में मामूली विवाद हुआ। एक किसान ने अपने माल की ढेरी करवाने के बावजूद नहीं खरीदने पर रोष प्रकट किया, न्यू धान मंडी मजदूर संघ के अध्यक्ष किशोरीलाल सिवान, कई किसान आदि गंगानगर किसान क्रय-विक्रय सहकारी समिति के आगे इकट्ठा हो गए। उसके बाद ढेरी के दुबारा झार लगवाई गई। खरीद केंद्रों पर किसी संशय के समाधान के लिए गठित कमेटी को बुलाया गया, उसने ढेरी को गुणवत्ता मापदण्ड पर खरा बताया और शुक्रवार को तुलवाने का आश्वासन दिया, तब मामला शांत हुआ।

इससे पूर्व गंगानगर सहकारी समिति के महाप्रबंधक गौरीशंकर बंसल, नेफेड के सर्वेयर राधेश्याम, मंडी समिति के सहायक सचिव रमेश कुक्कड़ एवं सहायक कृषि अधिकारी नरेंद्र शर्मा ने मूंग की गुणवत्ता को परखा। दुबारा झार लगने के बाद इसे खरीद योग्य माना गया। बंसल का कहना था कि केंद्र सरकार ने गुणवत्ता मापदण्ड निर्धारित कर रखे हैं, इनके मुताबिक ही खरीद हो सकती है।

Video : बालिकाओं ने संभाली पंचायत की कमान


857 कट्टों की खरीद

श्रीगंगानगर-हनुमानगढ़ जिले में गुरुवार तक मूंग के 857 कट्टों की खरीद हुई है। खरीद एजेंसी राजफैड के क्षेत्रीय अधिकारी रणवीर सिंह चाहर ने बताया कि श्रीगंगानगर जिले में अभी तक 378 किसान ऑन लाइन पंजीयन करवा चुके हैं। पंजीयन करवाने वालों किसानों के मोबाइल पर एसएमएस आता है कि उन्हें खरीद केंद्र पर कब माल लाना है। चाहर के अनुसार किसानों को सूखा एवं साफ माल ही लाना चाहिए ताकि वह गुणवत्ता मापदण्डों पर खरा उतरे। सभी खरीद केंद्रों पर बारदाने आदि की पूरी व्यवस्था पहले ही हो चुकी है। जिले में श्रीगंगानगर, लालगढ़ जाटान, सादुलशहर, केसरीसिंहपुर, श्रीकरणपुर, पदमपुर, गजसिंहपुर,रायसिंहनगर, समेजा, अनूपगढ़, घड़साना, रावला, श्रीबिजयनगर, जैतसर, सूरतगढ़, रिडमलसर एवं बींझबायला में मूंग की सरकारी खरीद के लिए केंद्र स्वीकृत किए गए हैं।


एक दिन में अधिकतम खरीद-प्रति किसान 25 क्विंटल

खरीद सीमा-प्रति बीघा 1.72 क्विंटल

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned