मामूली बरसात होते ही परिषद की व्यवस्थाएं फेल

- परिषद की बैठकों में शोरशराबा करने वाले पार्षद नदारद

By: vikas meel

Published: 06 Jun 2018, 08:20 PM IST

- टावर रोड और सुखाडिय़ा मार्ग से पानी निकासी नहीं

श्रीगंगानगर.

शहर में मंगलवार रात मामूली बरसात का असर बुधवार को अधिक देखने को मिला। करोड़ों रुपए खर्च कर विकास का दावा करने वाली नगर परिषद का अमला उस समय नजर नहीं आया जब लोग एक छोर से दूसरे छोर पर जाने के लिए बरसाती पानी में से गुजरे।

पुरानी आबादी टावर रोड और सुखाडिय़ा सर्किल से मीरा चौक तक सुखाडिय़ा मार्ग पर बरसात के करीब बीस घंटे बाद भी पानी निकासी के इंतजाम नहीं हो पाए। आए दिन हर जनहित मुद्दे पर प्रभावी ढंग से आवाज उठाने वाले पार्षदों के मुंह पर ताला जड़ गया। यदि बरसात ज्यादा होती तो हालात और बिगड़ जाते।

 

इधर, नगर परिषद के स्वास्थ्य अधिकारी देवेन्द्र प्रताप सिंह की अगुवाई में टीम ने ट्रैक्टर और पम्पसेट से पानी निकासी के इंतजाम किए लेकिन उससे पार नहीं पड़ी। यहां तक कि दमकल की गाडिय़ों को भी इस काम में लगाया गया। रही सही कसर सफाई कार्मिकों ने पूरी कर दी, इन कर्मियों से परिषद प्रशासन ने काम लेने के बजाय उनकी हाजिरी लेकर रवाना कर दिया। हालांकि कुछ पुरुष सफाई कर्मियों ने स्वास्थ्य अधिकारी के साथ रहकर शहर के चुनिंदा स्थानों पर जाकर पानी निकासी के प्रयास किए।

 

कोर्ट में एंट्री के लिए ढूंढते रहे रास्ता
कोर्ट कैम्पस में प्रवेश करने के लिए लोग वहां पानी और कीचड़ को पार करने के लिए साफ रास्तों की तलाश करते नजर आए। इसी तरह शहर के दोनों आरयूबी पानी से इतने भर चुके थे कि वहां से गुजरने में वाहन चालकों के पसीने छूटने लगे। बुधवार शाम तक इन दोनों आरयूबी में पानी निकासी का इंतजाम नहीं हो पाया, हालांकि वहां एक एक दमकल की गाड़ी को लगाकर पानी निकासी की कवायद भी की गई लेकिन पार नहीं पड़ी।

 

हाइवे पर सर्विस रोड से बिगाड़ी चाल
इस बीच शिव चौक से राजकीय जिला चिकित्सालय तक अधूरी पड़ी सर्विस रोड की हकीकत बुधवार को उस सामने आई जब मंगलवार रात हुई बरसाती पानी की निकासी नहीं हो पाई। बुधवार सुबह जैसे ही इस रोड पर दुकानदार जब अपनी दुकानों के पास पहुंचे तो वहां पानी ही पानी नजर आ रहा था। इस रोड का निर्माण दो माह से अटका हुआ है।

Show More
vikas meel
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned