श्रीगंगानगर।

पिछले चौबीस घंटे में शहर में लगातार बूंदाबांदी से सर्दी से धूजणी ऐसी छूटी कि दिनचर्चा ठप हो गई। सोमवार को महज 15.4 एमएम बारिश से शहर में पानी निकासी की व्यवस्था फेल नजर आई। मुख्य मार्ग बरसाती पानी से लबालब हो गए। बरसात से बचने के लिए लोग वैकल्पिक जगह की तलाश करते नजर आए। दुपहिया वाहनों पर आवाजाही करने वाले लोगों को इस बरसात से अधिक परेशान किया।

हालांकि यह बरसात खेती के लिए अधिक फायदेमंद है। लेकिन शहर में कीचड़ इस कदर पसरा कि एक छोर से दूसरे छोर तक पहुंचने के लिए टैम्पों चालको से मुंहमांगे किराये देने को मजबूर हो गए। पानी निकासी का इंतजाम करने वाला नगर परिषद प्रशासन बेबस नजर आया। पूरे शहर में पानी निकासी के लिए सफाई कार्मिक इतने अधिक सक्रिय नहीं दिखे जितनी अपेक्षा की थी। परिषद में सभापति करुणा चांडक बनने के बाद भी पानी निकासी के इंतजाम बेहतर तरीके से काम करने के दावों की पोल इस बरसात ने खोल दी।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned