लॉक डाउन में सडक़ों पर पसरा रहा सन्नाटा, पुलिस व दुकानदारों ने बनाकर रखी एक मीटर की दूरी, बनाए गोले

- घरों से बाहर निकलते कुछ लोगों को सख्ती व कुछ को समझाइस कर भेजा

श्रीगंगानगर. कोरोना वायरस से बचाव के लिए डिस्टेंस बनाए रखने के लिए गुरुवार को शहर में कई जगह पुलिसकर्मियों व कई जगह दुकानदारों की ओर से गोले बनाकर एक निर्धारित दूरी पर खड़े दिखाई दिए। जहां बाजारों व मुख्य मार्गों पर सन्नाटा पसरा था। कई जगह लोग घरों से बाहर आए तो उनको सख्ती व समझाइस से घर भेज दिया गया।


गुरुवार सुबह ही लॉक डाउन की पालना के लिए पुलिस अधिकारी व जाब्ता अपने-अपने इलाके में गश्त व फिक्स पाइंटों पर पहुंच गया। जहां पहुंचकर पुलिसकर्मियों ने अपने-अपने फिक्स पाइंटों पर चॉक से गोले बना लिए और एक मीटर से अधिक दूरी पर गोलों में खड़े हो गए। जिससे एक निर्धारित दूरी बनी रह सके।

शहर में पुलिसकर्मियों व दुकानदारों की ओर से इस तरह के गोले बनाए गए। दुकानों के आगे बने इन गोलों में राशन सामग्री खरीदने के लिए आने वाले ग्राहकों को खड़ा किया गया। कई जगह दुकानदारों ने सामान की पर्ची ले ली और सामान पैक करके देना शुरू कर दिया है। जिससे कई लोग एक स्थान पर एकत्रित नहीं हो सके। कई जगह तो पुलिसकर्मी खुद ही गोले बनाते नजर आए। गुरुवार को शहर में गली-मोहल्ले व बाजारों में राशन की दुकानें खुली थी।


कई जगह पुलिस को करनी पड़ी सख्ती
- लॉक डाउन के दौरान कई जगह पुलिसकर्मियों को लोगों के साथ सख्ती करनी पड़ी। लोग बिना वजह दुपहिया वाहन लेकर शहर में घूमने निकल पड़े तो पुलिस ने किसी वाहनों का चालान किया तो कहीं वाहनों को सीज कर दिया गया। चौराहों पर तैनात पुलिसकर्मियों ने ऐसे लोगों के डंडे भी लगाए। शहर में पुलिसकर्मी लोगों को समझाइस कर घरों में भेजते नजर आए।


बेवजह घर से निकलने पर कराई उठक-बैठक
- शहर में लॉक डाउन की पालना करवा रहे पुलिसकर्मियों ने बेवजह घर से बाहर निकलकर घूम रहे युवकों को उठक-बैठक कराई और उसे समझाइस कर घर भेजा गया। कोर्ट के समीप इधर-उधर से युवक साइकिलों व दुपहिया वाहनों पर आए तो पुलिस ने रोक लिया और वापस घर जाने को कहा तो नहीं माने। इस पर पुलिस सख्ती की।


दवा की पर्ची व सब्जी बनी बाहर जाने का बहाना
- पुलिस अधिकारियों ने बताया कि लोग एक दवा की पर्ची लेकर लॉक डाउन की पालना नहीं करते हुए बाहर निकल आते हैं। शहर में जिस व्यक्ति से भी पुलिस ने पूछा वहीं दवा व सब्जी लेने जा रहा था। इस जांच पड़ताल के बाद कई लोगों को वहां से वापस भेज दिया गया। पुलिस अधिकारियों ने अपील की है लोग अपने-अपने घरों में नजदीक दवा व राशन दुकानों पर पहुंचे, अन्यथा सख्ती बढ़ा दी जाएगी।


सब्जी की रेहडिया गली-मोहल्लों, वहीं से लें सब्जी
- पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सब्जी व फलों की रेहडियों को अलग-अलग इलाके में गली-मोहल्लों में ही जाने की अनुमति है। इसके चलते रेहडिया हर गली, मोहल्ले, कॉलोनियों में पहुंच रही है। अपने इलाके में आने वाली रेहडियों से सब्जी व फल आदि खरीदें। बेवजह इधर-उधर नहीं जाए, नहीं सख्ती कार्रवाई की जाएगी।


जिले व शहर के नाकों पर भी चल रही सख्ती
- शहर में चारों तरफ लगाए गए नाकों व पंजाब सीमा से लगते नाकों पर पुलिस का जाब्ता तैनात है और वहां सख्ती से लॉक डाउन की पालना कराई जा रही है। नाकों पर वाहनों की आवाजाही एकदम बंद करवा दी गई है। केवल आवश्यकता वस्तुओं को लाने व ले जाने वाले गुड्स वाहन, इंमरजेंसी के वाहनों को आने-जाने दिया जा रहा है। यहां अन्य वाहनों के प्रवेश रोक लगी हुई है। यहां आने व जाने वालों की गहन जांच पड़ताल की जा रही है। इसके बाद ही आने-जाने दिया जा रहा है।


लॉक डाउन में तोता पकडऩे जाने वाले खुद पिंजरे में
- लॉक डाउन के दौरान गुरुवार दोपहर को इन्दिरा चौक के समीप पुलिस जाब्ता तैनात था। जहां दो युवक जा रहे थे। जिनको पुलिसकर्मियों ने रोक लिया और पूछा तो उन्होंने बताया कि वे तोता पकडऩे के लिए जा रहा है। उनको वापस घर जाने को कहा गया तो नहीं माने। पुलिस ने दोनों को शांतिभंग में गिरफ्तार कर लिया।


इनका कहना है
- लॉक डाउन में बेवजह या कोई बहाना कर घर से बाहर निकलने वालों को अभी तक समझाइस की जा रही है। यदि लोग नहीं माने सख्ती करनी पड़ेगी। इसलिए लोग घरों में रहे। नजदीकी राशन व दवा दुकानों पर ही जाएं। रेहडियां हर गली-मोहल्ले में पहुंच रही हैं। इसलिए बाहर नहीं आएं।
-इस्माइल खान, सीओ सिटी श्रीगंगानगर

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned