घर में मिला था साढ़े 71 किलो पोस्त, अब तस्कर को 15 साल की कैद और डेढ़ लाख रुपए का जुर्माना

https://www.patrika.com/sri-ganga-nagar-news/

 

By: surender ojha

Published: 04 Apr 2019, 07:09 PM IST

श्रीगंगानगर। इलाके में मादक पदार्थो की बिक्री करने वालों के खिलाफ अब सख्त कानून के तहत कड़ी सजा भी दी जा रहाी है। करीब तीन साल पहले पोस्त की तस्करी करने के जुर्म में अब अदालत ने एक आरोपी को दोषी मानते हुए पन्द्रह साल कठोर कारावास व डेढ लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है।

यह निर्णय गुरुवार को एनडीपीएस कोर्ट के स्पेशल जज विजय सिंह सींवर ने सुनाया।

विशिष्ट लोक अभियोजक केवल कुमार अग्रवाल ने बताया कि 14 अप्रेल 2016 को पुरानी आबादी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि पुरानी आबादी के हाउसिंग बोर्ड वार्ड 6 में दीपक पुत्र गोपालराम धोबी के घर पर पोस्त की बड़ी खेप बेचने के लिए आई है। वहां कार्रवाई करें तो यह खेप पकड़ी जा सकती है।

इस सूचना के आधार पर पुरानी आबादी के तत्कालीन एसएचओ अवधेश सांदू ने हाउसिंग बोर्ड में चौबीस वर्षीय दीपक धोबी के घर पर दबिश दी तो वहां हडंकंप मच गया था। पुलिस ने इस घर से साढ़े 71 किलोग्राम अवैध पोस्त बरामद कर आरोपी दीपक को एनडीपीएस एक्ट में गिरफ्तार किया।

अदालत में चालान पेश किया गया, विचाराधीन इस मामले में 14 गवाहों ने अदालत में बयान दर्ज कराए। अदालत ने आरोपी दीपक को दोषी मानते हुए एनडीपीएस एक्ट की धारा 8-15 में पन्द्रह साल कठोर कारावास व डेढ़ लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना अदा नहीं करने पर डेढ़ साल का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। निर्णय के उपरांत जमानत पर रिहा आरोपी दीपक के जमानत मुचलके निरस्त कर उसे सजा भुगतने के लिए जेल भेज दिया गया।

surender ojha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned