scriptSomebody told the reason for being ill if you took the rice | भात लेकर जाने की गिनवाई मजबूरी तो किसी ने बीमार होने की बताई वजह | Patrika News

भात लेकर जाने की गिनवाई मजबूरी तो किसी ने बीमार होने की बताई वजह

Somebody told the reason for being ill if you took the rice- चुनाव डयूटी ना बाबा ना: जिला कलक्टर के समक्ष चुनाव से डयूटियां कटवाने की गुहार लगाने वालों की लगी लंबी कतार.

श्री गंगानगर

Published: December 02, 2021 06:56:22 pm

श्रीगंगानगर. कलक्ट्रेट में गुरुवार दोपहर करीब साढ़े बारह बजे का समय और जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय के आगे सरकारी कर्मियों की लंबी कतार। इस कतार में खड़े कार्मिक के हाथ में प्रार्थना पत्र था। फरियादी बने इन कार्मिकों ने प्रार्थना पत्र के साथ शादी का कार्ड तो किसी ने स्वास्थ्य परीक्षण की विभिन्न जांच रिपोर्ट की फोटोकॉपी तो किसी ने अपनी बहन की बेटी यानि भांजी की शादी के लिए भात लेकर जाने की मजबूरी गिनवाई हुई थी।
भात लेकर जाने की गिनवाई मजबूरी तो किसी ने बीमार होने की बताई वजह
भात लेकर जाने की गिनवाई मजबूरी तो किसी ने बीमार होने की बताई वजह
कलक्टर ने एक साथ फरियादी बने इन कार्मिकों की डयूटियां कटवाने के लिए कतार लगवा दी। जैसे जैसे कार्मिक कलक्टर के समक्ष पेश हुए तो अपनी मजबूरी को गिनवाने लगे। अधिकांश शादी में जाने का कारण बताकर चुनावी डयूटियां कटवाने की फरियाद लगवा रहे थे। कई एेसे भी कार्मिक थे जिन्होंने अपनी तबयीत खराब होने की वजह बताई। कई कार्मिक एेसे भी थे जिन्होंने अपने माता पिता की सेवा करने का कारण बताया।
सिफारिश से बजवाई घंटियां चुनाव डयूटियां कटवाने के लिए कई कार्मिकों ने उच्चाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों और अन्य से सिफारिश करने के लिए जुगात भी की है। सिफारिश से फोन भी करवाएं है ताकि किसी न किसी तरीके से चुनावी डयूटियां कट जाएं। हालांकि चुनाव को सर्वोच्च प्राथमिकता देने का पाठ भी पढ़ाया है। पंचायतराज चुनाव के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने विभिन्न 28 प्रकोष्ठ बनाए गए है।
प्रत्येक प्रकोष्ठ में बीस कार्मिक औसतन डयूटी के लिए लगाया गया है। इसमें से कई प्रकोष्ठो में चालीस से पचास कार्मिक भी शामिल किए गए है। चुनाव कार्य से जुड़े इन कार्मिकों को संबंधित प्रकोष्ठ के तहत कार्य करने के लिए बकायदा प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।
मतदान और मतगणना के लिए कार्मिकों की सूची को सार्वजनिक नहीं किया गया है। लेकिन इतना जरूर है कि प्रत्येक पोलिंग बूथ पर कम से कम आठ कार्मिक तैनात किए जाएंगे।

इस बीच, पंचायतराज चुनाव में इवीएम के उठाव और मतदान दलों की सफाई के लिए जिला निर्वाचन विभाग ने नगर परिषद के तीन सौ सफाई कार्मिकों की डयूटियां लगवाई है। इससे शहर में सफाई कार्य प्रभावित होने लगा है।
पार्षदों कमला बिश्नोई, कृष्ण गोपाल, बलजीत सिंह बेदी, प्रियंक भाटी, आशा देवी खटीक, हेमंत रासरानियां, रमेश शर्मा आदि ने चुनाव डयूटी के नाम पर तीन सौ सफाई कर्मियों को कार्य मुक्त कर शहर की सफाई व्यवस्था में लगाने की गुहार की है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.