शहर का बजट गांवों में बहाने में लगे जनप्रतिनिधि

People's representative engaged in making excuses in the budget of the city- साढ़े सत्रह करोड़ रुपए का विशेष बजट को खर्च करने में दरियादिली

By: surender ojha

Published: 19 Dec 2020, 11:47 PM IST

श्रीगंगानगर. शहर में सड़कों की सेहत सुधारने के लिए करीब साढ़े सत्रह करोड़ रुपए का बजट खर्च होना था लेकिन कमजोर जनप्रतिनिधित्व के कारण यह बजट गांवों में खर्च हो रहा है।

नाथांवाला, चार एमएल, नेतेवाला, महियांवाली, चक ३ ई छोटी, ग्राम पंचायत ५ ई छोटी, साहूवाला ग्राम पंचायत आदि ग्रामीण इलाके में भी नगर परिषद क्षेत्र के लिए विशेष बजट से सड़कों का निर्माण कराया जा रहा है।

नगर विकास न्यास क्षेत्र के माध्यम से दस करोड़ २१ लाख रुपए का बजट खर्च किया रहा है। इसमें अरोडवंश पब्लिक स्कूल से इंदिरावाटिका तक सीसी रोड पर १.९८ करोड़ रुपए, अग्रसेनगर चौक से समाज कल्याण छात्रावास तक कारपेट सड़क पर १५ लाख, अन्य सड़कों पर रिकारपेटिंग पर १.०४ करोड़ रुपए, नाली मरम्मत पर ८१.९२ लाख रुपए, गुड शैफर्ड स्कूल से नेहरानगर तक कारपेट रोड पर ४०.७१ लाख रुपए, बसंती चौक से राधा स्वामी डेरे तक ८१.३४ लाखरुपए, गणेश विहार वार्ड १९ में २१ लाख रुपए की सड़क बन चुकी है।

वहीं भाटिया पंप से कोडा चौक तक सड़क पर ९७ लाख रुपए का बजट खर्च होगा। इधर, मीरा चौक से रेलवे ओवरब्रिज तक सीसी रोड और इँटरलोकिंग टाइल्स बिछाने काम पर २ करोड़ ६२ लाख रुपए कुल १० करोड़ २१ लाख ७० हजार रुपए का बजट खर्च किया गया है। शेष आठ करोड़ रुपए बजट के लिए दूसरेचरण में निविदाएंमांगी जाएगी।
दो साल पहले संकल्प यात्रा दौरे पर आई तत्कालीन सीएम वसुंधरा राजे ने विशेष पैकेज देने की घोषणा की थी, इस घोषणा के ठीक एक सप्ताह बाद १४ सितम्बर २०१८ को स्वायत्त शासन विभाग ने साढ़े सत्रह करोड़ रुपए जारी किए लेकिन यूआईटी के तत्कालीन अध्यक्ष संजय महिपाल ने नगर परिषद के माध्यम की बजाय न्यास के माध्यम से यह राशि खर्च करने की अनुमति मांगी।

डीएलबी ने यह आदेश यूआईटी के नाम कर दिया, लेकिन तकनीकी अड़चन से नोडल एजेंसी सार्वजनिक निर्माण विभाग को अधिकृत कर दिया गया। पीडब्ल्यूडी ने प्रत्येक वार्ड में सड़कों के जीर्णोद्धार का टैण्डर जारी किया तो सभापति सहित कई पाषदों ने फिर शिकायत कर दी। जब तक इन शिकायतों का निस्तारण होता तब तक विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लग गई और यह बजट खर्च नहीं हो पाया।

surender ojha Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned