नसबंदी शिविरों में गद्दे खरीद प्रकरण में श्रीगंगानगर की टीम ने दिए बयान

Krishan Ram | Updated: 24 Aug 2019, 12:04:54 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

नसबंदी शिविरों में गद्दे खरीद प्रकरण में श्रीगंगानगर की टीम ने दिए बयान

-चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग श्रीगंगानगर के अधिकारी-कर्मचारी जयपुर में पेश हुए

-तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. बसंल पर 12.50 लाख रुपए नसबंदी शिविरों के लिए गद्दा खरीद में भ्रष्टाचार का आरोप

श्रीगंगानगर. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग (ग्रुप-2) के उप शासन सचिव संजय कुमार के समक्ष श्रीगंगानगर (Sriganganagar team) की टीम पेश हुई। इन्होंने नसबंदी शिविर में महिलाओं के उपयोग के लिए गद्दे खरीद में भ्रष्टाचार प्रकरण में जांच के लिए जिला लेखा प्रबंधक सुतीश गुप्ता, तत्कालीन लेखाधिकारी सुवालाल, तत्कालीन उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी स्वास्थ्य आइपी पूनिया, कनिष्ठ लिपिक अमित पूनिया व स्टोर कीपर रामकुमार सिहाग को जयपुर तलब कर रखा था। उक्त सभी कार्मिक शुक्रवार को शासन (statement) उप सचिव जयपुर के समक्ष पेश हुए और इस प्ररकण में इन सभी से बयान लिए गए। वहीं, सीएमएचओ डॉ. गिरधारी लाल मेहरड़ा को इनके साथ रेकॉर्ड लेकर जयपुर बुला रखा था। अब इस प्रकरण में जल्दी कार्रवाई हो सकती है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में सीएमएचओ की कुर्सी को लेकर डॉ. गिरधारी लाल व डॉ. नरेश बंसल में विवाद चल रहा है। मामला हाईकोर्ट में है और इसकी सुनवाई अब 26 अगस्त को होगी। इस बीच तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. नरेश बंसल पर उनके कार्यकाल में कथित रूप से गद्दे खरीद, गाज पट्टी व दवा शुगर स्टिक व मशीन आदि खरीद (purchase) में भ्रष्टाचार व अनियमितता करने के प्रकरण की उच्च स्तर पर जांच चल रही है। इस प्रकरण की जांच विशिष्ट शासन सचिव एवं आयुक्त चिकित्सा एवं शिक्षा की अध्यक्षता में एक जांच कमेटी कर रही है। जिसके चलते अब तत्कालीन (rajasthan patrika news) सीएमएचओ डॉ.बंसल की मुश्किलें बढ़ती जा रही है।

इसमें चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. बंसल के कार्यकाल में नसबंदी शिविर में महिलाओं के उपयोग के लिए 650 गद्दे खरीद करने में 12 लाख 60 हजार रुपए की अनियमितता का आरोप है। इसके लिए दो बार तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. बंसल को जयपुर तलब किया जा चुका है। एक बार डॉ. बंसल पेश नहीं हुए तो फिर एक तरफा निर्णय करने की चेतावनी दी गई। अब अन्य अधिकारियों को भी इस प्रकरण में जयपुर तलब किया है।

दो बार तलब किया डॉ. बंसल को जयपुर

शासन उप-सचिव ने तत्कालीन सीएमएचओ डॉ. नरेश बंसल (sriganganagar hindi news) को इस प्रकरण में कमेटी के समक्ष अपना पक्ष रखने के लिए 30 जुलाई को निदेशालय चिकित्सा शिक्षा, जयपुर में विशिष्ट शासन सचिव एवं आयुक्त चिकित्सा शिक्षा के कक्ष में उपस्थित होने के लिए तलब कियाथा लेकिन डॉ. बंसल उपस्थित नहीं हुए। इसके बाद विभाग ने फिर एक पत्र जारी कर 19 अगस्त को उपस्थित नहीं हुए तो इस बार यह समझा जाएगा कि आपको इस संबंध में कुछ नहीं कहना है तथा आपके बयानों के बिना ही अग्रिम जांच पूर्ण कर दी जाएगी। इसके बाद डॉ. बंसल पेश होकर अपना पक्ष रखा है।

पुलिस ने पहले ही मांग रखा है रेकॉर्ड
कोतवाली पुलिस ने सीएमएचओ को पत्र लिखकर 12 नवंबर 2014 को लेखा शाखा की ओर से सीएचसी व पीएचसी स्तर के लिए प्रसूताओं के लिए खरीद किए गए 650 गद्दों की संपूर्ण पत्रावली मांगी है। इसके अलावा वर्ष 2016-17 में अस्पतालों में आपूर्ति के लिए खरीद की गई फिजियोथैरेपी मशीनों की आपूर्ति की संपूर्ण पत्रावली एवं उक्त मशीनों के लिए आपूर्ति एवं भुगतान की जानकारी। उक्त निविदा का रेकॉर्ड एवं मशीन सप्लाई करने वाली फर्म को भुगतान का रेकॉर्ड भी पुलिस ने मांगा था। कोतवाली पुलिस ने गत चुनावों के दौरान एनसीडी दवा शुगर स्टिक खरीद की संपूर्ण पत्रावली एवं दवा कब-कब किस किस सीएचसी एवं पीएचसी को जारी की गई एवं आपूर्ति करने वाली कंपनी फर्म को भुगतान का रेकॉर्ड उपलब्ध करवाया जाए। साथ ही डॉ.बंसल के सीएमएचओ रहते खरीद की गई गाज पट्टी की संपूर्ण पत्रावलियां एवं गाज पट्टी आपूर्ति करने वाली फर्मों को भुगतान का रेकॉर्ड मांगा था। विभाग ने पुलिस को रेकॉड उपलब्ध करवा दिया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned