कायाकल्प टीम ने माना श्रीकरणपुर का अस्पताल जिले में प्रथम

https://www.patrika.com/sri-ganga-nagar-news/

By: jainarayan purohit

Published: 03 Jan 2019, 06:26 PM IST

- राज्य में मिला बारहवां स्थान

श्रीकरणपुर. सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर बनाने, अच्छी साफ-सफाई व अन्य कई उद्देश्यों को लेकर शुरू की गई काया कल्प योजना के तहत हुए निरीक्षण में यहां के सामुदायिक स्वास्थय केन्द्र ने जिले में बाजी मारी है। इसी के साथ सीएचसी को राज्य में 12 वां स्थान मिला है।

राजकीय चिकित्सालय प्रभारी और कार्यवाहक बीसीएमओ डॉ.नीरज अरोड़ा ने बताया कि गत वर्ष 26 अक्टूबर को जयपुर से आई कायाकल्प टीम ने अस्पताल का निरीक्षण किया था। एचआर सेक्टर के सेक्शन ऑफिसर अशोक भंडारी के नेतृत्व में आई चार सदस्यीय टीम ने चिकित्सालय की सफाई, रोगियों के लिए चल रही योजनाओं के समय पर उन्हें लाभ देने, जननी सुरक्षा व अन्य वार्डों की स्थिति, डॉक्टरों और नर्सिंगकर्मियों के रोगियों के प्रति व्यवहार और अन्य कई बिंदुओं पर जांच कर अंक दिए गए।

जननी सुरक्षा वार्ड बना श्रेष्ठता का आधार
डॉ.अरोड़ा ने बताया कि जांच टीम ने जेएसवाई वार्ड में पर्दों से बनाए गए केबिन व साफ-सफाई की खासतौर पर सराहना की। जांचदल का कहना था कि निजी चिकित्सालय का एहसास दिलाने वाले ऐसे केबिन तो जिला मुख्यालय पर भी नहीं है। इसके अलावा चिकित्सालय परिसर में हुई बागवानी और सामुदायिक सहयोग से हो रहे कार्यों की प्रशंसा की।

परिसर की सफाई, शौचालयों के रख-रखाव, हॉस्पिटल का प्रबंधन, लेखा जोखा अभिलेख, दवा का स्टॉक, प्रसूताओं को मिलने वाली प्रोत्साहन राशि व अन्य सुविधाओं, विशेष शिविरों के दौरान हुई नसबंदी का विवरण आदि की गहनता से जांच की। इसमें जांच अधिकारियों ने चिकित्सालय की सफाई और अन्य व्यवस्थाओं पर संतोष जताते हुए कई सुविधाओं को जिला मुख्यालय से भी बेहतर बताया।

डॉ. अरोड़ा ने बताया कि अंतिम परिणाम में यहां के चिकित्सालय को 86.17 प्रतिशत अंक दिए गए जो जिले में सर्वाधिक हैं। वहीं राज्य में बारहवें स्थान पर है।

jainarayan purohit
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned