सर्द मौसम में विद्यार्थियों के तेवर गर्म, प्रदर्शन किया और बोले मांगों पर कार्रवाई नहीं तो सोलह को करेंगे प्रशासन का घेराव

https://www.patrika.com/sri-ganga-nagar-news/

श्रीकरणपुर में एसएफआइ की ओर से हुआ प्रदर्शन, कॉलेज सरकारीकरण सहित अन्य समस्याएं हल करने की मांग, एसडीएम का घेराव करने की चेतावनी
श्रीकरणपुर. ज्ञान ज्येाति कॉलेज सरकारीकरण, राजकीय चिकित्सालय में डॉक्टरों के रिक्त पद भरने सहित अन्य कई मांगों को लेकर सोमवार को स्टूडेंटस फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआइ) की ओर से एसडीएम कार्यालय पर प्रदर्शन किया गया। राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर विद्यार्थियों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। और समस्याओं का निराकरण नहीं होने पर 16 जनवरी को प्रशासन का घेराव करने की चेतावनी दी।
गौरतलब है कि इससे पहले एआइएसएफ की ओर से भी इसी तरह की चेतावनी दी गई है।
एसएफआइ के प्रदेश कमेटी सदस्य रवि मालिया व जिला उपाध्यक्ष मुकेश मोहनपुरिया के नेतृत्व में आए विद्यार्थियों ने एसडीएम कार्यालय परिसर के मुख्य द्वार पर सभा की। इसमें उन्होंने मुख्य रूप से ज्ञान ज्योति कॉलेज के सरकारीकरण का मुद्दा उठाया। मालिया ने कहा कि पांच साल पहले कांग्रेस सरकार ने ज्ञान ज्योति महाविद्यालय का सरकारीकरण किया था। लेकिन राज्य में भाजपा की सरकार ने आते ही सरकारीकरण निरस्त कर दिया। और आनन-फानन में नए राजकीय महाविद्यालय की घोषणा कर दी। उन्होंने कहा कि तीन साल पहले राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के चार कमरों में महज कला वर्ग के लिए शुरू कॉलेज का भवन निर्माण नहीं हो सका। इससे यहां अध्ययनरत करीब पांच सौ विद्यार्थी वर्तमान में परेशानी झेल रहे हैं।

संगठन के तहसील अध्यक्ष संदीप सैन, महासचिव रमन डाबरिया, दीपेश सुवासिया, अमन वधवा आदि ने राजकीय चिकित्सालय में डॉक्टरों के रिक्त पद भरने, बेरोजगारों को 35 सौ रुपए भत्ता देने और लंबित छात्रवृत्तियां दिलाने की मांग रखी। मौके पर मौजूद नीलम, गगनदीप कौर, हिना, हरप्रीत कौर, अनु, संजय, संदीप, पवन चीनिया आदि विद्यार्थियों का कहना था कि मांग पूरी नहीं हुई तो 16 जनवरी को प्रशासन का घेराव किया जाएगा।

सभी अंदर जाने पर अड़े
ज्ञापन देने आए विद्यार्थियों की संख्या और जोश देखकर वहां तैनात पुलिस बल ने केवल पांच-सात विद्यार्थियों को ही एसडीएम कार्यालय के अंदर जाने के लिए कहा। इस पर छात्र नेताओं ने सभी को अंदर जाने देने या एसडीएम को बाहर आने पर ज्ञापन देने की घोषणा कर दी। नारेबाजी व शोर-शराबा सुनकर आखिर पुलिस ने सभी विद्यार्थियों को अंदर जाने की अनुमति दी।

jainarayan purohit
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned