कागजों में साफ हो गए शहर के बारह मुख्य नाले

कागजों में साफ हो गए शहर के बारह मुख्य नाले
कागजों में साफ हो गए शहर के बारह मुख्य नाले

Surender Kumar Ojha | Updated: 12 Oct 2019, 08:16:44 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

main drains cleared शहर के मुख्य बारह नालों की सफाई पर नगर परिषद प्रशासन ने 28 लाख 84 हजार रुपए खर्च कर दिए।

श्रीगंगानगर।
शहर में पिछले दिनों बरसाती पानी की निकासी करीब तीस घंटे तक अटकी रही। वजह थी मुख्य नालों की समुचित सफाई नहीं होना। लेकिन अमूमन तौर पर नगर परिषद का अमला ऐसे नालों की सिल्ट निकालने की कवायद करता नजर आता है, हकीकत में यह बजट खपाने का प्रयास किया जाता है।

पार्षद डा.भरतपाल मय्यर ने पिछले साल नालों की सफाई का रिकॉर्ड खंगाला तो हैरानगी वाले खुलासा हुआ है। पार्षद मय्यर की माने तो शहर के मुख्य बारह नालों की सफाई पर नगर परिषद प्रशासन ने 28 लाख 84 हजार रुपए खर्च कर दिए। यह राशि किस ठेकेदार को भुगतान की गई, इस संबंध में परिषद ने रिकॉर्ड उपलब्ध नहीं कराया है।

लेकिन प्रत्येक नाले की सिल्ट निकाले के एवज में किए गए भुगतान के बारे में सूचना दी है। इसके विपरीत मुख्य नालों की हालत ज्यों की त्यों है। सुखाडिय़ा मार्ग, मोटर मार्केट, सुखाडिय़ा सर्किल से शिव चौक तक, शिव चौक से राजकीय जिला चिकित्सालय तक, भगतसिंह चौक से मटका चौक तक नालों में पानी ऊपर तक पसरा हुआ है।
पार्षद मय्यर की माने तो नगर परिषद हर महीने नाला गैंग में शामिल 25 सफाई कार्मिकों को वेतन व अन्य परिलाभ उपलब्ध कराती है। इस नाला गैंग की जिम्मेदारी नालों को साफ करना है।

इसके लिए नगर परिषद की जेसीबी, जेटिंग मशीन, ट्रेक्टर ट्रॉली का इस्तेमाल होता है। लेकिन शहर के मुख्य नालों को साफ करने के लिए ठेके फर्म को ठेका देने की वजह क्या रही, इस संबंध में परिषद के अधिकारियों ने भी एक दूसरे को अधिकृत बताकर अपना झाड़ लिया।
नगर परिषद के रिकॉर्ड के अनुसार शहीद उधमसिंह चौक से पूर्व मंत्री राधेश्याम के आवास तक नाले पर 1.51 लाख रुपए, सुखाडिय़ा मार्ग पर खुराना पैलेस से गौशाला के गेट व एन ब्लॉक पार्क तक 1.05 लाख रुपए, गांधी नगर गेट से रवीन्द्र पथ तक 4.07 लाख रुपए, पायल थियेटर से फायर बिग्रेड तक 3.24 लाख रुपए, लक्कड़मंडी टी प्वाइंट से बीरबल चौक तक 3.92 लाख रुपए, पंचायत धर्मशाला से पूर्व मंत्री राधेश्याम गंगानगर के आवास तक 3.77 लाख रुपए, मान मेडिकल स्टोर से मटका चौक तक 1.36 लाख रुपए, पुरानी आबादी में राकेश वाल्मीकि के घर से मियों की ढाणी तक 1.51 लाख रुपए, जैन पेट्रोल पंप से तनिष्का शोरूम तक 75 हजार रुपए, सामुदायिक केन्द्र से रविदासनगर होते हुए चहल चौक तक 3.00 लाख रुपए, सुखाडिय़ा सर्किल से खींची चौक तक 2.64 लाख रुपए, अंध विद्यालय से शिव चौक होते हुए गगन पथ पर बिहाणी चिल्ड्रन एकेडमी तक 1.81 लाख रुपए कुल 28 लाख 84 हजार रुपए खर्च किए गए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned