विद्युत लाइन की ऊंचाई बहुत कम थी...करंट लगने से युवक की मौत

-नाथांवाला स्थित 33 केवी विद्युत सब स्टेशन से पठानवाला जाने वाली हाईवोल्टेज 11 हजार केवी विद्युत लाइन से हुआ हादसा
-नाथांवाला वाटरवक्र्स स्थित एलएंटी गोदाम की में तैनात था सुरक्षा गार्ड

By: Krishan chauhan

Published: 04 Apr 2020, 09:33 AM IST

विद्युत लाइन की ऊंचाई बहुत कम थी...करंट लगने से युवक की मौत
-नाथांवाला स्थित 33 केवी विद्युत सब स्टेशन से पठानवाला जाने वाली हाईवोल्टेज 11 हजार केवी विद्युत लाइन से हुआ हादसा
-नाथांवाला वाटरवक्र्स स्थित एलएंटी गोदाम की में तैनात था सुरक्षा गार्ड
श्रीगंगानगर.जिला मुख्यालय से कुछ दूरी पर स्थित गांव नाथांवाला स्थित जोधपुर विद्युत वितरण निगम के 33 केवी विद्युत सब स्टेशन से पठानवाला जाने वाली 11 हजार केवी विद्युत लाइन पर हादसा हुआ। एलएंटी कंपनी में कुछ दिन पहले संविदा पर रखे हुए सुरक्षा गार्ड बलदेव सिंह की हाईवोल्टेज विद्युत लाइन के छुने से करंट लगने से मौके पर मौत हो गई। यह घटना सुबह 9.30 बजे की है और करंट से युवक पूरी तरह से झूलस गया। गांव नेतवाला निवासी बलदेव सिंह 23 पुत्र देवी लाल लखारा 14 मार्च 2020 को एलएंटी कंपनी के गोदाम की सुरक्षा के लिए सुरक्षा गार्ड की नौकरी पर लगा था। शुक्रवार को सुबह छह बजे वह ड्यूटी पर आया और दोपहर दो बजे तक उसकी डयूटी थी लेकिन उससे पहले ही यह हादसा हुआ और युवक की मौत हो गई। उसके साथ सुरक्षा गार्ड चंद्रभान भी ड्यूटी पर था।
राउंड पर किया था गार्ड---मृतक के साथी सुरक्षा गार्ड चंद्रभान ने बताया कि बलदेव पीछे राउंड मारने व कैंटेनर को बंद करने के लिए बोल कर गया था। कुछ देर बाद आया नहीं तो उसको मैंने तीन बार फोन किए। फोन पहले मिला नहीं और फिर कॉल जा रही थी उसको उठाया नहीं। इतने में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के कार्मिक ने आकर बताया कि आपका गार्ड कहा पर है उक व्यक्ति को करंट लग गया। वहां पर जाकर देखा तो उसकी करंट से मौत हो चुकी थी। इसके बाद सुपरवाइजर अनील कुमार को इसकी सूचना दी गई। मौके पर एलएंटी कंपनी की एंबुलेस आ गई लेकिन जब तक उसकी मौत हो चुकी थी।
घटना की सूचना मिलने पर परिजन पहुंचे मौका पर--
घटना की सूचना मिलते ही गांव नेतेवाला के सरपंच पति विनोद ताखर,पूर्व सरपंच पति सुभाष मायल,पूर्व सरपंच सुरेंद्र पारीक,मृतक युवक का ताऊ गोपीराम व चाचा कृष्ण लाल सहित काफी संख्या में ग्रामीण नाथांवाला वाटरवक्र्स पहुंच गए। वहां से पुलिस की मौजूदगी में शव राजकीय जिला चिकित्सालय लेकर आए। यहां पर पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को दोपहर डेढ़ बजे सौंप दिया गया।
विद्युत लाइन की ऊंचाई बहुत कम--
मृतक युवक के चाचा कृष्ण लाल ने आरोप लगाया कि जीएसएस से निकलने वाली 11 हजार विद्युत लाइन की ऊंचाई वहां पर तीन फीट की है। निगम की लापरवाही से युवक की मौत हुई है। ग्रामीणों ने कहा कि निगम को पूर्व में भी बार-बार अवगत करवाने के बावजूद विद्युत लाइन को ऊंचा नहीं किया गया। विद्युत निगम की लापरवाही से इस युवक की मौत हुई है। इसको लेकर परिजन व ग्रामीणों में काफी रोष देखा गया।
एफआईआर के लिए दिया प्रार्थना पत्र
परिजनों ने एलएंटी कंपनी व विद्युत निगम के अधिकारियों पर इस प्रकरण में लापरवाही का आरोप लगाते हुए सदर पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज करवाने के लिए प्रार्थना पत्र दिया है। पुलिस ने मौका पर पहुंच कर पोस्टमार्टम की कार्रवाई करवाई और परिजनों को शव सौंप दिया। वहीं, विद्युत निगम को हादसा की सूचना मिलते की विद्युत निगम के सहायक अभियंता ग्रामीण निशांत धुन्ना व कनिष्ठ अभियंता इशा आरोड़ा मौके पर पहुंच गए और इस घटना पर दु:ख प्रकट किया।
33 केवी विद्युत सब स्टेशन शहर से पाठनवाला गांव 11 हजार केवी विद्युत लाइन जाती है। इस लाइन को छुने से हादसा हुआ है। एलएंटी का काम चल रहा है। इस कारण दोनों साइड में मिट्टी होने डाल दी गई है और वहां पर दीवार को पार करते हुए विद्युत तार छुने से युवक की मौत हुई है।

निशात धुन्ना,सहायक अभियंता ग्रामीण जोधपुर विद्युत वितरण निगम,श्रीगंगानगर।

Krishan chauhan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned