दिनभर फायरिंग से दहशत

-कृषि भूमि के विवाद को लेकर दो गुटों में फायरिंग, चार घायल

-तीन को किया राउंडअप

 

By: pawan uppal

Published: 16 May 2018, 11:00 AM IST

जैतसर.

पुलिस थानांतर्गत गांव 12 एनआरडी बिशनपुरा में मंगलवार सुबह कृषिभूमि के मालिकाना हक को लेकर दो समूहों में झगड़ा हो गया। देखते ही देखते झगड़ा इतना अधिक बढ गया कि दोनों समूहों के लोगों ने एक-दूसरे पर हवाई फायरिंग करना प्रारंभ कर दिया। इससे क्षेत्र में दहशत का माहौल बन गया। मंगलवार सुबह करीब आठ बजे एवं करीब दो घंटे बाद दस बजे दोनों समूहों ने दो बार परस्पर एक-दूसरे पर जमकर हवाई फायर किये।

दोनों समूहों में हुई फायरिंग की जानकारी मिलने पर थानाधिकारी विजय सिंह मय जाब्ते के मौके पर पहुंचे एवं तीन जनों को राउंडअप किया। फायरिंग के दौरान चार लोगों को चोटें पहुंची हैं। उन्हें सूरतगढ़ के राजकीय ट्रोमा सेंटर में भर्ती करवाया गया है। थानाधिकारी विजय सिंह ने बताया कि गांव 12 एनआरडी बिशनपुरा में कुलजीत सिंह पुत्र धर्मसिंह रायसिख की करीब 14 बीघा कृषिभृमि थी। इसे उसने दो अलग-अलग लोगों को अलग-अलग समय पर बेच दी।

कृषिभूमि के मालिकाना हक को लेकर दोनों समूहों में लंबे समय से विवाद चल रहा था। रविवार को भी दोनों समूहों में विवाद की स्थिति उत्पन्न होने पर पुलिस ने सोमवार को ही दोनों समूहों को शांतिभंग करने की आशंका को लेकर पाबंद करने के लिए इस्तगासा दायर किया था। इसी बीच मंगलवार को दोनों समूहों ने अल सुबह ही विवादित कृषिभूमि पर कब्जा करने के लिए फायरिंग करना प्रारंभ कर दिया।

फायरिंग में देवीलाल बिश्नोई (50) पुत्र रामलाल बिश्नोई व कृष्णलाल बिश्रोई (58) पुत्र रामलाल बिश्नोई निवासी डाबला, वेदप्रकाश बिश्नोई (40) पुत्र ठाकरराम बिश्नोई निवासी मालसर व निहालचंद बिश्नोई (50) पुत्र शिवराम बिश्नोई के गोलियों के छर्रे लगने से घायल हुए हैं। उन्हें सूरतगढ़ के राजकीय ट्रोमा सेंटर में भर्ती करवाया गया है। वहीं इसी मामले में स्थानीय थाना पुलिस ने निर्मल सिंह (40) पुत्र सुखदेव सिंह निवासी खरलियां, हरप्रीत सिंह (19) पुत्र जगसीर सिंह निवासी बहणीफता बरनाला पंजाब व गुरविन्द्र सिंह पुत्र सुखदेव सिंह निवासी खरलियां को राउंडअप कर पूछताछ कर रही है।


यह था विवाद का कारण
थानाधिकारी विजय सिंह ने बताया कि गांव 12 एनआरडी निवासी कुलजीत सिंह पुत्र धर्म सिंह रायसिख के नाम से 14 बीघा कृषिभूमि थी। उसे उसने वर्ष 2014 में पीलीबंगा थानाक्षेत्र के गांव खरलियां निवासी निर्मल सिंह पुत्र सुखदेव सिंह जटसिख को इकरारनामा कर बेचान कर दिया था। इसके बाद कुलजीत सिंह ने तीन वर्ष बाद मार्च 2017 में इकरारनामा शुदा उक्त कृषिभूमि में से ही 9 बीघा कृषिभृमि को गांव डाबला निवासी सु़दर्शन बिश्नोई पुत्र कृष्णलाल व 4 बीघा कृषिभूमि को दलीप बिश्नोई पुत्र रामलाल बिश्नोई को बेचान कर रजिस्ट्री करवा दी। इसके बाद से ही दोनों समूहों में उक्त कृषिभूमि के मालिकाना हक को लेकर झगड़ा चल रहा था। पुलिस ने विवाद की आशंका को देखते हुए सोमवार को ही दोनों समूहों को शांतिभंग करने की आशंका में पाबंद करने के लिए इस्तगासा दायर किया था।

Show More
pawan uppal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned