हत्यारों को पकड़ने के लिए कस्बा दूसरे दिन भी बंद रहा

Rajender pal nikka | Updated: 12 Jun 2019, 09:37:09 PM (IST) Sri Ganganagar, Sri Ganganagar, Rajasthan, India

श्रीबिजयनगर।

पुलिस थाना के स्टाफ को बदलने के लिए व हत्यारों को पकड़ने के लिए कस्बा बुधवार को दूसरे दिन भी बंद रहा। श्रीगंगानगर सांसद निहालचंद मेघवाल ने उपखण्ड कार्यालय में पुलिस अधिकारियों व प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली। कस्बे में सब्जी मंडी की दुकानों को छोड़कर सभी दुकाने बन्द रही।

नागरिक सुबह से ही पुलिस थाना के समक्ष जमा होने शुरू ही गए। अनूपगढ़, रामसिंहपुर व जैतसर से भी कुछ लोगों ने धरनास्थल पर आकर धरने को समर्थन दिया। दोपहर को भीषण गर्मी में भी धरना स्थल पर काफी भीड़ रही।

विधायक बलवीर लूथरा ने कई पुलिस अधिकारियों से फोन लाइन पर बात की और बाद में गुरुवार से अनशन शुरू करने की चेतावनी दी गई , माकपा नेता श्योपत मेघवाल ने अपने सम्बोधन में अपने बच्चों को नशे से बचाने के लिए यह आंदोलन चल रहा हैं। आज कस्बे में परिवार सुरक्षित नहीं है। ये लड़ाई तब तक चलेगी जब तक कस्बे में नशा बिकना बन्द नहीं होता व पुलिस थाना का स्टाफ बदला नहीं जाता तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

सांसद निहालचंद मेघवाल ने उपखण्ड कार्यालय में दोपहर तीन बजे अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक सीता राम, उपखण्ड अधिकारी प्रियंका तलानिया,तहसीलदार अजीत गोदारा व थानाधिकारी फूलचंद शर्मा से सोमवार को हुई महिला उषा बजाज की हत्या मामला की जानकारी ली। और पुलिस को तीन दिन में हत्या के अपराधियों को पकड़ने के निर्देश दिए गए।

अरोड़वंश समाज की महिलाओं ने सुमन बलाना, नीलम बग्गा की अगुवाई में पुलिस उपाध्यक्ष जय सिंह तंवर को मांग पत्र सौंपकर पुलिस के स्टाफ को बदलने, नशे पर रोक लगाने व हत्या के अपराधियों को शीघ्र पकड़ने की मांग की गई है। धरना स्थल पर रामदास सोनी , लख्खा चुघ,राजा हेयर, गोपाल मेघवाल, गुरसेवक ग्रेवाल , राजेश मिढ़ढा सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned