बंधक बनाए गए किशनगढ़बास व नौगावां के दो जनों को पुलिस ने एक ढाणी से कराया मुक्त, दो गिफ्तार

- अन्य आरोपियों की तलाश कर रही पुलिस, मांगी थी फिरौती

By: Raj Singh

Published: 11 Oct 2021, 10:39 PM IST

रावला/श्रीगंगानगर. रावला थाना पुलिस ने अलवर जिले के किशनगढ़बास व नौगावां से सोना निकलवाने का लालच देकर यहां लाकर बंधक बनाए गए दो व्यक्तियों को कार्रवाई कर एक ढाणी से रविवार रात को मुक्त करवा लिया गया। पुलिस ने कार्रवाई के दौरान आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनसे पूछताछ चल रही है। इनके अन्य साथियों की तलाश की जा रही है।


पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत ने बताया कि रविवार की शाम करीब पांच बजे रावला थाने पर सूचना मिली कि अलवर के कुछ लोगों को बंधक बनाया हुआ है। पुलिस अभी पता लगा रही थी कि थाना प्रभारी सुरेन्द्र पचार को मुखबिर ने सूचना दी कि अलवर के दो-तीन व्यक्तियों को काला सिंह उर्फ कुलवंत सिंह पुत्र केहर सिंह निवासी दो केएनडी रावला ने बंधक बना रखा है और फिरोती मांग रहे हैं।

बंधकों के परिजनों से संपर्क किया गया तो परिजनों ने कोई पुलिस कार्रवाई कराने से मना कर दिया। इस पर परिजनों व उनके रिश्तेदारों से समझाइस कर बंधकों को सकुशल छुड़ाने आश्वासन दिया।


इस पर परिजनों ने पुलिस को बताया कि काला सिंह उर्फ कुलवंत सिंह की ढाणी पर दबिश दी गई। काला सिंह के घर पर बंधक बनाकर रखे गए जुनैद खान पुत्र खुर्शीद खान निवासी फूलावास तिजारा अलवर को छुड़ाया गया। आरोपी कुलवंत सिंह उर्फ काला सिंह व पप्पू उर्फ लक्ष्मण पुत्र रामप्रसाद निवासी मुबारिकपुर नौगांवा अलवर ने बताया कि दूसरे व्यक्ति हाकू पठान फिरोती की राशि लेकर घडसाना फ्लाईओवर पर छोड़ के पास छोड़ दिया है।

इस पर थाना प्रभारी मय जाब्ते के घडसाना फ्लाईओवर के पास पहुंचे और वहां हकमुदीन उर्फ हाकू पुत्र नसीब निवासी पाटन मेवात किशनगढ़ बास अलवर को आधी बेहोशी की हालत में बरामद किया। जिसने बताया कि उसे तीन दिन से पप्पू, कालासिंह, जस्सा सिंह, गुलशन खुद को सीआईडी का अधिकारी बताकर बंधक बना रखा था।

आरोपियों से मारपीट की जिससे उसकी तबीयत बिगड़ गई। दोनों से फिरोती के पैसे भी खाते में डलवा लिए। हाकू को वहां छोड़ गए और कहा कि जुनैद की राशि लेकर आ जाना। पुलिस ने हाकू की रिपोर्ट पर धारा 364, 365, 342, 384, 323 के तहत मामला दर्ज कर काला सिंह व पप्पू को गिरफ्तार कर लिया है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी के साथ हैडकांस्टेबल विष्णुदत्त, मनोहर सिंह, कांस्टेबल जयसिंह, बब्बन, जयपाल व दुलीचंद शामिल रहे।


सोना निकलवाने का लालच देकर बना लिया बंधक
- थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी कुलवंत की ससुराल मुबारिकपुर तिजारा में है। वहीं पड़ोसी पप्पू सिंह से उसकी पहचान थी। वहीं जुनैद व हाकू से भी संपर्क थे। पप्पू ने हाकू व जुनैद को खेत में सोना निकलवाने का लालच दिया और अपने साथ यहां रावला ले आया।

जहां पप्पू ने गड्ढा खोदकर कुछ निकाला, जो नकली सोना निकला। पप्पू यह नकली सोना अलवर से ही लाया था। इस पर दोनों को बंधक बना लिया। आरोपियों के अन्य साथी भी आ गए। दोनों जनों को डरा धमकाकर फिरोती मांगी। इस पर 55 हजार रुपए दोनों के परिजनों ने खाते में डलवा दिए। अब पांच लाख रुपए और मांगे। वहां से हाकू का जवांई रुपए लेकर घडसाना पहुंच गया था। इसलिए हाकू को रुपए लाने भेज दिया था। इस घटनाक्रम सूचना मुखबिर ने पुलिस तक पहुंचा दी।

Raj Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned