पश्चिमी हवा से छाए धूल के गुबार

vikas meel

Publish: Jun, 14 2018 07:16:20 PM (IST)

Sri Ganganagar, Rajasthan, India
पश्चिमी हवा से छाए धूल के गुबार

-पूर्वी हवा चली तो मिल सकती है धूल से निजात

-राजस्थान का बड़ा हिस्सा चपेट में
-पूर्वी हवा चली तो मिल सकती है धूल से निजात

श्रीगंगानगर.

पश्चिमी हवा के कारण इलाके में गुरुवार को भी धूल के गुबार छाए रहे। इससे शहर के लोगों को जबर्दस्त परेशानी का सामना करना पड़ा। सुबह दिन की शुरुआत से चली हवा का असर पूरे दिन बना रहा। पूरा दिन धूल मिट्टी से लोग परेशान होते रहे। दुपहिया वाहन चालक हेलमेट और चश्मे से धूप से बचाव करते दिखे वहीं घरों में गृहणियां पूरे दिन सफाई में जुटी रही।

बादलवाही से गिरा तापमान, धूल ने किया परेशान

धूल के कारण अधिकांश लोगों को सड़कों पर चलने में भी परेशानी आई। ज्यादा समस्या साइकिल चालको को आई। विशेषज्ञों के अनुसार पश्चिमी हवा का असर इलाके में इस कदर बढ़ा है कि पूरा क्षेत्र ही धूल भरी हवा की चपेट में आ गया है। पश्चिमी राजस्थान में रेतीले इलाके से चली इस हवा से अगले चौबीस घंटे में निजात मिल सकती है। इस दौरान यदि पूर्वी हवा चलती है तो यह धूल के असर को कम कर देगी।

शक्तिदल, घुड़सवारी और दंगारोधी टीम का साहसिक प्रदर्शन

स्थानीय परिस्थितियों से बदल सकता है मौसम

स्थानीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी एमएल रिणवां के अनुसार पश्चिमी राजस्थान का अधिकांश इलाका रेगिस्तानी होने से वहां से उठी धूल ने पूरे इलाके को चपेट में ले लिया। इसी का असर श्रीगंगानगर पर भी है। अब अगले चौबीस घंटे में पूर्वी हवा चलने से धूल से राहत मिल सकती है। इसके साथ ही कुछ स्थानीय मौसम संबंधी परिस्थितियां भी ऐसी बन रही हैं कि पूर्वी हवा चलने की संभावना मजबूत हुई है। यह गर्मी से राहत दे सकती है।

थर्मल की राख बनी परेशानी का सबब, हवा के साथ उड़कर स्वास्थ्य पर डाल रही प्रभाव

यह रहा तापमान

इस बीच गुरुवार को अधिकतम तापमान 41.0 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 31.5 डिग्री सेल्सियस रहा। हवा में नमी सुबह 52 प्रतिशत तथा शाम को 32 प्रतिशत रही।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned