पकड़ी गई 50 करोड़ की पार्टी ड्रग, तस्कर निकला कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीतने वाला

पकड़ी गई 50 करोड़ की पार्टी ड्रग, तस्कर निकला कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीतने वाला
Party Drug

balram singh | Updated: 17 Feb 2017, 11:47:00 PM (IST) राज्य

आरोपियों में हरप्रीत सिंह वही शख्स है जिसने 2004 में ऑस्ट्रेलिया में हुए यूथ कॉमनवेल्थ गेम्स डिस्कस प्रतियोगता में सिल्वर मैडल जीतकर देश का गौरव बढ़ाया था।

दिल्ली पुलिस ने रेव पार्टियों में सप्लाई होने वाले 'म्याऊ-म्याऊ' यानि मेफेड्रोन ड्रग्स के बड़े सिंडिकेट का भंडाफोड़ करते हुए एक खिलाड़ी के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में पता चला की गैंग का सरगना दुबई में बैठा कैलाश राजपूत है, जो दुबई से ड्रग्स शिप से मुंबई भेजता है।



आरोपियों में हरप्रीत सिंह वही शख्स है जिसने 2004 में ऑस्ट्रेलिया में हुए यूथ कॉमनवेल्थ गेम्स डिस्कस प्रतियोगता में सिल्वर मैडल जीतकर देश का गौरव बढ़ाया था। उसके साथ ही अमनदीप सिंह और हर्निश सरपाल को भी गिरफ्तार किया गया है।



उनके पास से 25 किलो से ज्यादा की 'म्याऊ-म्याऊ' ड्रग्स बरामद की है, जिसकी कीमत करीब 50 करोड़ है। बताया जा रहा है कि स्पेशल सेल की टीम ने अमनदीप को उसके साथी हरप्रीत के साथ नई दिल्ली स्टेशन से गिरफ्तार किया था। तलाशी लेने पर उनके पास से 50 करोड़ की ड्रग्स बरामद हुई।



एथलीट हरप्रीत सिंह

अमनदीप की शानदार लाइफस्टाइल को देखकर हरप्रीत नशे के कारोबार से जुड़ गया। इससे पहले उसने 2004 में यूथ कॉमनवेल्थ गेम्स के अलावा 2006 में कोलंबो में एसएएफ गेम्स में ब्रांज मेडल जीता और राष्ट्रीय अवार्ड भी जीते, लेकिन 2006 -2007 में डोपिंग टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने पर उसकी खेल की दुनिया में ब्रेक लग गया।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned