scriptMaharashtra MLC Elections: MVA and BJP Seeks Support of Small Parties | Maharashtra MLC Elections: महाराष्ट्र विधान परिषद की 10 सीटों पर आज होगा मतदान, निर्दलीय और छोटे दलों के विधायक तय करेंगे हार-जीत | Patrika News

Maharashtra MLC Elections: महाराष्ट्र विधान परिषद की 10 सीटों पर आज होगा मतदान, निर्दलीय और छोटे दलों के विधायक तय करेंगे हार-जीत

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव की 10 सीटों के लिए आज वोटिंग होनी है। इस चुनाव में निर्दलीय और छोटे दलों के विधायक हार-जीत तय करेंगे। यही कारण है कि इन विधायकों को साधने की तमाम कोशिशें भाजपा और एमवीए की तरफ से हुई है।

Published: June 20, 2022 09:31:43 am

मुंबई: महाराष्ट्र में आज विधान परिषद की 10 सीटों के लिए वोटिंग होनी है। इस चुनाव में महा विकास अघाड़ी और बीजेपी की प्रतिष्ठा दांव पर है। हालांकि चुनाव से पहले हर दल अपनी जीत का दावा कर रहे हैं। लेकिन इस चुनाव में भी निर्दलीय और छोटे दलों के विधायक हार-जीत तय करेंगे। हालांकि इससे पहले राज्यसभा चुनाव में बीजेपी ने एमवीए को हराया था। ऐसे में दोनों तरफ से अपनी जीत के लिए हर मुमकिन कोशिश की जा रही है।
Sharad-Pawar-and-Devendra-Fadnavis
Sharad Pawar and Devendra Fadnavis
राज्य विधान परिषद चुनाव में बीजेपी और एमवीए के उम्मीदवारों को जीत के लिए विरार चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। दरअसल इस चुनाव में भी हितेंद्र ठाकुर की बहुजन विकास अघाड़ी के तीन विधायकों के वोट बहुत अहम हो गए हैं। यही कारण है कि भाजपा, कांग्रेस और एनसीपी के नेता और विधायकों का बार-बार विरार आना-जाना शुरू है। इससे पहले एनसीपी के नेता एकनाथ खडसे ने हितेंद्र ठाकुर से मुलाकात की है।
यह भी पढ़ें

Maharashtra News: महाराष्ट्र एमएलसी चुनाव को लेकर सियासी बयानबाजी तेज, बीजेपी प्रदेश के बयान के बाद अब डिप्टी सीएम ने किया ये बड़ा दावा

हितेंद्र के विधायक बेटे क्षितिज ठाकुर के विदेश में होने की खबर है। बताया जा रहा है कि कई नेताओं की तरफ से इन्हें वापस बुलाने और अपने पक्ष में मतदान करने का आग्रह किया जा रहा है। हालांकि वह मतदान के लिए आज पहुंचते हैं या नहीं इसे लेकर सस्पेंस बना हुआ है। इससे पहले राज्यसभा चुनाव में बीजेपी ने महा विकास अघाड़ी को शिकस्त दी थी। यही कारण है कि दोनों तरफ से पूरी ताकत जीत के लिए लगाई जा रही है।
राज्यसभा चुनाव की तरह विधान परिषद चुनाव भी गुप्त वोटिंग से हो रहा है। इसलिए हर किसी को क्रॉस मतदान का डर है। संख्या बल के हिसाब से 10वीं सीट के लिए मतदान होने जा रहा है। इसलिए जिस उम्मीदवार को अधिक वोट मिलेगा वह जीत जाएगा। सभी दलों की तरफ से अपने-अपने विधायकों को एकजुट रखने और क्रॉस वोटिंग से बचाने के लिए पहले ही अलग होटलों में रखा गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.