आप भी पढ़ें आखिर श्रम व कौशल विकास मंत्री ने राजस्थान की लड़कियों के लिए क्यों कही एेसी बात

raktim tiwari

Publish: Jun, 19 2017 03:21:00 (IST)

Ajmer, Rajasthan, India

आप भी पढ़ें आखिर श्रम व कौशल विकास मंत्री ने राजस्थान की लड़कियों के लिए क्यों कही एेसी बात

राज्य के श्रम एवं कौशल विकास मंत्री डॉ. जसवंत सिंह यादव ने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री की सोच है कि हर युवा हुनरमंद बने और उसके हाथ में रोजगार हो। राजस्थान में बालिका सशक्तीकरण की दिशा में बहुत अच्छा काम हुआ है।

राज्य के श्रम एवं कौशल विकास मंत्री डॉ. जसवंत सिंह यादव ने कहा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री की सोच है कि हर युवा हुनरमंद बने और उसके हाथ में रोजगार हो। राजस्थान में बालिका सशक्तीकरण की दिशा में बहुत अच्छा काम हुआ है। 


शीघ्र ही हम पूरे देश में अव्वल होंगे। अजमेर में आयोजित यह बालिका कौशल विकास शिविर सरकार की सोच के अनुरूप हमारी बेटियों को सशक्त कर रहा है।

चंदवरदायी नगर स्थित ऑल सेंट्स गल्र्स स्कूल में चल रहे पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी बालिका कौशल विकास शिविर को रविवार संबोधित करते डॉ. यादव ने कहा कि हमारे युवा हर तरह से सक्षम हैं, बस जरूरत है उन्हें सही मार्ग दिखाने की। उन्होंने कहा कि राजस्थान में देश की पहली कौशल विकास यूनिवर्सिटी खोली जा रही है। इसमें युवा अपनी रुचि के अनुसार किसी भी हुनर को सीखने के लिए दाखिला ले सकेंगे।


 महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल ने कहा कि प्रत्येक कोर्स की प्रत्येक बालिका को पुरस्कार स्वरूप एक ज्ञानवद्र्धक हवाई यात्रा भी करवाई जाएगी। महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. कैलाश सोढ़ाणी ने कहा कि प्रदेश का हर विधायक इसी तरह बालिकाओं को हुनरमंद बनाकर सशक्त करें तो प्रतिवर्ष 2 लाख बालिकाओं को आगे बढ़ाया जा सकता है। 


उन्होंने बालिकाओं से कहा कि आप अपना लक्ष्य तय करें और उसकी प्राप्ति के लिए पूरे मनोयोग से जुट जाए। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के अधिकारियों ने डिजिटल बैंकिंग की जानकारी दी। इस अवसर पर अध्यक्ष अरविंद यादव, पूर्व विधायक हरीश झामनानी, उप महापौर संपत सांखला, कंवल प्रकाश किशनानी सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned