लगाई फटकार, कहा जनता का पैसा दो, नहीं तो अगले माह से कटेगी तनख्वाह

aniket soni

Publish: Jul, 13 2017 06:18:00 (IST)

Alwar, Rajasthan, India
लगाई फटकार, कहा जनता का पैसा दो, नहीं तो अगले माह से कटेगी तनख्वाह

रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया व सहकारिता विभाग के अधिकारियों को सख्ती से कहा कि जल्दी ग्राहकों का पैसा लौटाने का इंतजाम नहीं किया तो आप लोगों की तनख्वाह से पैसा कटौती किया जाएगा, जिसकी शुरुआत आगामी माह से एक हजार रुपए की कटौती के आदेश भी दे दिए।

अलवर शहर में नोटबंदी के समय अलवर अरबन कोऑपरेटिव बैंक में हुए करीब 16 करोड़ रुपए के घोटाले के बाद ग्राहकों काजमा पैसा नहीं लौटाने के मामले में बुधवार को सुनवाई के दौरान जिला जज हेमंत कुमार जैन ने अधिकारियों को फटकारा।


रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया व सहकारिता विभाग के अधिकारियों को सख्ती से कहा कि जल्दी ग्राहकों का पैसा लौटाने का इंतजाम नहीं किया तो आप लोगों की तनख्वाह से पैसा कटौती किया जाएगा, जिसकी शुरुआत आगामी माह से एक हजार रुपए की कटौती के आदेश भी दे दिए। एेसे किया जाएगा तभी उन लोगों की मन की व्यथा का अहसास होगा जिनका मेहनत का पैसा अटक गया।


किसी के घर में मरीज को दवा नहीं मिल रही तो किसी के बच्चे की फीस नहीं भरी जा रही है। उनके आंसूओं का अहसास कराने के लिए सहकारिता व रिजर्व बैंक ऑफ इण्डिया के अधिकारियों की तनख्वाह से कटौती की जा सकती है। उल्लेखनीय है कि बैंक में घोटाला सामने आने के बाद करीब 8 हजार ग्राहकों पर असर पड़ा है। उनकी जमा पूंजी उनको नहीं मिल पा रही है।


आगे पूरी कार्य योजना लेकर आएं


जिला जज ने सुनवाई के दौरान कहा कि बार-बार कहने पर भी कार्य योजना लेकर नहीं आ रहे हैं। आगामी सुनवाई में पूरी कार्य योजना के साथ आएं।


ऋण वालों को नोटिस दें


जिन लोगों ने अरबर कोऑपरेटिव बैंक से ऋण ले रखा और जमा नहीं करा रहे हैं उनकी सूची जुटाएं। एेसे ग्राहकों को नोटिस दिएजाएं। जमा नहीं कराने वालों की सम्पति को कुर्क  करने की कार्रवाई की जाए। नोटबंदी के दौरान पकड़े गए 1.32 करोड़ रुपए प्रवर्तन निदेशालय से लेकर जमाकर्ताओं को वापस दिया जाए।


एेसे खाताधारकों को प्राथमिता से पैसा दिया जाए जिनके परिवार में कोई गंभीर बीमार है या फीस देनी जरूरी है। इस सुनवाई में आरबीआई से हरभजन कुमार व सहकारिता से लोकेन्द्र पाल सहित कई अधिकारी मौजूद थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned