Video : बांसवाड़ा : 32 घंटों बाद भी नहीं मिले एसडीएम, बेटा बोला - बिना लिए नहीं लौटेंगे

Banswara, Rajasthan, India
Video : बांसवाड़ा : 32 घंटों बाद भी नहीं मिले एसडीएम, बेटा बोला - बिना लिए नहीं लौटेंगे

कुशलगढ़ में तैनात एसडीएम शुक्रवार को कार सहित बह गए थे नाले में, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, परिजन मौके पर पहुंचे

जब तक मेरे पापा नहीं मिल जाते हम यहां से नहीं जाएंगे। यह कहना है पानी के बहाव में बहे कुशलगढ़ एसडीएम रामेश्वर दयाल के बेटे संदीप का। पिता की तलाश में परिवार सहित बांसवाड़ा पहुंचे सभी लोग घटनास्थल पर मौजूद कई घंटों से मौजूद हैं। और ईश्वर से दुआ कर पिता के सकुशल मिलने की आस में हैं।



बांसवाड़ा : वाहन से पुलिया पार करते समय नाले में बहे कुशलगढ़ SDM


गौरतलब है कि कुशलगढ़ थाना क्षेत्र के बागीदौरा एवं कुशलगढ़ के बीच ढेबरी गांव के पास शुक्रवार को हुई भारी बारिश के चलते नाले पर बनी रपट पर चल रही चादर में बहे कुशलगढ़ एसडीएम का दूसरे दिन शनिवार को 32 घंटे बाद भी कोई सुराग नहीं लगा है। जबकि रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है।


इस ऑपरेशन में स्थानीय गोताखोरों के साथ अब अजमेर से 35 जवानों की एक एनडीआरएफ की टीम के साथ उदयपुर की एसडीआरएफ का 29 जवानों का दल एसडीएम की तलाश में जुटा हुआ है। इनके साथ करीत तीन-चार थानों पुलिस जाप्ता एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण भी इस कार्यमें जुटे हुए हैं।




प्राप्त जानकारी के अनुसार इस टीम ने अब बड़े करीब तीन किलोमीटर तक के नाले के पानी में एसडीएम की तलाश कर ली है, लेकिन उनका कोई पता नहीं चल रहा है। वहीं एसडीएम के पानी में डूबने की सूचना पर उनके गांव अलवर जिले के राजगढ़ से भी काफी लोग पहुंच गए है। इनमें एसडीएम रामेश्वर दयाल का बेटा संदीप भी शामिल है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार दूसरे दिन शनिवार को एसडीआरएफ एवं एनडीआरएफ का रेस्क्यू ऑपरेशन सुबह नौ बजे से शुरू हुआ। इस कार्य में करीब तीन चार बोटें भी लगाई गई हैं। जो एसडीएम की तलाशी में जुटी हुई है। रेस्क्यू ऑपरेशन प्रभारियों के अनुसार अब पानी में हिलाने का प्रयास किया जा रहा है। इससे अगर एसडीएम कहीं झाडि़यों में फंसे हुए हों तो वे निकल आए। इधर, दूसरी ओर मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीणों के साथ कलक्टर एसपी की ओर से भी पूरे मामले में पल-पल की रिपोर्ट ली जा रही है।


यह था मामला


शुक्रवार सुबह करीब साढ़े सात बजे बांसवाड़ा से कुशलगढ़ जाते समय एसडीएम रामेश्वर दयाल मीणा अपने चालक एवं जीप सहित ढेबरी रपत पर चल रही करीब चार फीट की चादर में बह गए थे।


इसमें उनका चालक को जैसे-तैसे बचकर बाहर निकल गया,लेकिन एसडीएम का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। इसकी जानकारी पर मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ जिला प्रशासन एवं स्थानीय गोताखोरों ने शुक्रवार को पूरा दिन खोजबीन में लगाया, लेकिन एसडीएम का अभी तक कोई पता नहीं चला है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned