जीएसटी से अमीरों को फायदा, गरीब ठगे गए

Barmer, Rajasthan, India
जीएसटी से अमीरों को फायदा, गरीब ठगे गए

पत्रकार वार्ता : जीएसटी से गरीब व किसानों को कोई फायदा नहीं मिलेगा, इसका लाभ अमीरों को मिलेगा। आम जरूरत की वस्तुओं पर तो टैक्स बढ़ जाएगा, जबकि विलासिता की वस्तुओं पर टैक्स कम होगा।

जीएसटी से गरीब व किसानों को कोई फायदा नहीं मिलेगा, इसका लाभ अमीरों को मिलेगा। आम जरूरत की वस्तुओं पर तो टैक्स बढ़ जाएगा, जबकि विलासिता की वस्तुओं पर टैक्स कम होगा। 

प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि एक देश, एक टैक्स जबकि उन्होंने ही राज्य सरकारों को अधिकार दे दिया है कि वे भी टैक्स का दायरा बढ़ा सकती है। इसके चलते तमिलनाडुृ सरकार ने तो अध्यादेश लाकर टैक्स लागू भी कर दिया है।

 यह बात पूर्व सांसद और अखिल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव हरीश चौधरी ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि सरकार ने शीघ्र चार वस्तुओं शराब, पेट्रोलियम, बिजली और रियल स्टेट को इस दायरे से बाहर रखा है जबकि आम जीवन की उपयोगी वस्तुओं पर तो कर भार बढा दिया है।

 कांग्रेस सरकार ने अठारह प्रतिशत तक जीएसटी का प्रावधान रखा था जिसे केन्द्र सरकार ने बढ़ाकर 28 प्रतिशत और इससे भी अधिक बढ़ा कर चालीस फीसदी तक कर दिया है।

नेट नहीं वहां ऑन लाइन की बात

जीएसटी में छोटे व्यापारियों को हर माह तीन बार आयकर रिटर्न भरने होंगे, जबकि हमारे देश में नेट सुविधा का गांवों में अभाव है। केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री को भी मोबाइल सेवा के लिए परेशान होना पड़ रहा है। 

जीएसटी के खिलाफ कांग्रेस व्यापारियों के साथ

जीएसटी के खिलाफ कांग्रेस उपभोक्ताओं व व्यापारियों के साथ खड़ी है। पूर्व सांसद हरीश चौधरी ने जिला मुख्यालय पर विभिन्न व्यापार संगठनों के प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान ये बात कही। 

उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार जिस जीएसटी की बात कर रही थी उसमें टैक्स में एकरूपता मुख्य बात थी। भाजपा सरकार ने इसमें पांच स्लेब बनाकर इसे ओर जटिल कर दिया है।

विधायक मेवाराम जैन ने कहा कि आम आदमी के उपयोग वाले कृषि जीन्सों को टैक्स से जोड़कर किसानों के लिए समस्या कर दी है। जिला कांग्रेस अध्यक्ष फतेह खान ने भी बात रखी। जिला अनाज व्यापार संघ, मण्डी व्यापार संघ, मण्डी व्यापारी विकास समिति सदस्यों से मुलाकात कर जीएसटी के जटिल प्रावधानों व टैक्स दरों स दिक्कतों के बारे में जानकारी ली।

 संघ अध्यक्ष किशनलाल वड़ेरा ने कहा कि चीनी व घी पर दोहरी मार पड़ रही है। इस दौरान संरक्षक वीरचन्द वडेरा, उपाध्यक्ष हंसराज संखलेचा, सचिव दिनेश भूतड़ा, गौतम बोथरा पवन जैन, गोरधनसिंह भी उपस्थित थे। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned